NIMF ने भारत का पहला ऑटो ETF किया आरंभ

मुंबई, 05 जनवरी 2022: निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड (NIMF) के संपत्ति प्रबंधक निप्पॉन लाइफ इंडिया एसेट मैनेजमेंट लिमिटेड (एनएएम इंडिया) ने भारत का पहला ऑटो सेक्टर ईटीएफ (ETF) , निप्पॉन इंडिया निफ्टी ऑटो ईटीएफ की लॉन्च की घोषणा की। यह ऑटो ईटीएफ एक ओपन-एंडेड योजना है जो निफ्टी ऑटो इंडेक्स का प्रतिकृति / ट्रैकिंग करता है यह NFO 5 जनवरी 2022 को खुलेगा और 14 जनवरी 2022 को बंद होगा। न्यू फंड ऑफर (एनएफओ) के दौरान न्यूनतम आवश्यक निवेश राशि 1,000 रुपये और उसके बाद 1 रुपये के गुणकों में होगी।

ALSO READ: तीसरी लहर का बढ़ा प्रकोप: Corona के लपेटे में आये जेपी नड्डा

निप्पॉन इंडिया निफ्टी ऑटो ईटीएफ मुख्य रूप से, सूचकांक के समान अनुपात में, निफ्टी ऑटो इंडेक्स वाले शेयरों में निवेश करेगा। यह ऊपर के 15 कंपनियों (निफ्टी ऑटो इंडेक्स के अनुसार) में अनावृत्ति प्रदान करेगा जो ऑटो-संबंधित क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करेगी जैसे ऑटोमोबाइल 4 व्हीलर, ऑटोमोबाइल 2 और 3 व्हीलर, ऑटो सहायक और टायर।

यह ईटीएफ (ETF) पूरी तरह से ऑटोमोबाइल क्षेत्र के व्यवहार और प्रदर्शन को प्रतिबिंबित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह निफ्टी ऑटो टीआरआई के से बेंचमार्क किया जाएगा। इस योजना का निवेश उद्देश्य निफ्टी ऑटो इंडेक्स द्वारा दर्शाया गया प्रतिभूतियों के कुल रिटर्न, खर्च से पहले, के अनुरूप निवेश रिटर्न प्रदान करना हैं, ट्रैकिंग त्रुटि के अधीन। हालाँकि, इसका कोई आश्वासन या प्रत्याभूति नहीं है कि ये योजना अपने निवेश उद्देश्य को प्राप्त करेंगे।

लॉन्च के मौके पर निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड ईटीएफ के हेड, हेमेन भाटिया, ने कहा, “निप्पोन इंडिया म्युचुअल फंड एक बहुत तेज़ी से बढ़ते उद्योग में सबसे आगे रहा है, जिसने भारत के सबसे मज़बूत और विभेदित ईटीएफ प्लेटफॉर्म स्थापना है। निप्पॉन इंडिया निफ्टी ऑटो ईटीएफ हमारे बाकी ईटीएफ पेशकशों में एक और जोड़ है जो निफ्टी ऑटो इंडेक्स का प्रतिनिधित्व करने वाले 15 शेयरों निवेश करके निवेशकों को भारत के ऑटो क्षेत्र के विकास में भाग लेने में मदद करते है।

निप्पॉन इंडिया निफ्टी ऑटो ईटीएफ जो भारत में लॉन्च होने वाला पहला ऑटो सेक्टर ईटीएफ है, वह ऑटो क्षेत्र में भाग लेने का एक सरल और कम लागत (कुल व्यय अनुपात के अनुसार) संविभाग निर्माण खंड प्रदान करेंगे।” उन्होंने आगे जोड़ते हुए कहा कि “हमारे पीछे अधिकांश हेडविंड जैसे सेमी-कंडक्टर की आपूर्ति की बाधाओं के साथ-साथ कीमतों में वृद्धि और सड़क दृश्य जो विद्युतीकरण के डर से आगे बढ़के इलेक्ट्रिक व्हीकल (ईवी) को अवसर के रूप में देखता है, समग्र ऑटो सेक्टर के एक्सपोजर के साथ-साथ निवेशकों को ईवी थीम के एक्सपोजर भी मिलेगा। इतने सारे निवेशकों को अपने निवेश लक्ष्यों को हासिल करने में मदद करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाना हमारे लिए सम्मान की बात है।

निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड (एनआईएमएफ) भारत के ईटीएफ बाजार के सबसे बड़े खिलाडियों में से एक है, जिसका एयूएम, 30 नवंबर, 2021 तक, 500 अरब रुपये से अधिक है। इसमें सबसे व्यापक ईटीएफ में से एक है जिसमे, इक्विटी, ऋण और कमोडिटी समेत उद्योग के 23 ईटीएफ शामिल हैं। 30 नवंबर, 2021 तक, ईटीएफ में 65 लाख से अधिक फोलियो के साथ, एनआईएमएफ का बाजार का हिस्सा 60% है।