MP News: दिग्विजय और नाथ ने CM से मिलने के बाद की चर्चा, लगाए ये आरोप

mp news

भोपाल। टेम और सुठालिया बांध परियोजना से प्रभावित किसानों की समस्या को लेकर आज पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह और कमलनाथ (digvijay singh and kamalnath) ने सीएम शिवराज सिंह चौहान ( CM shivraj singh chauhan) से मुलाकात की। प्रदेश के दोनों पूर्व सीएम किसान प्रतिनिधियों के साथ सीएम हाउस पहुंचे। इस दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सभी लोगों की बातें ध्यान से सुनी है।

इसके बाद मीडिया से चर्चा करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ (Kamalnath) ने कहा कि, “टेम और सुठोलिया परियोजना के डूब प्रभावितों को साथ में लेकर आज मैंने और दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) जी ने शिवराज (CM Shivraj Singh Chouhan) जी से मुलाकात की। उन्हें सर्वे व मुआवजे से संबंधित सारी गड़बड़ियाँ बतायी और साथ ही प्रभावित किसानों से उनकी सीधी चर्चा करायी।”

ALSO READ: दूध की जली कांग्रेस गोवा में छाछ भी फूँक फूँक कर पी रही, उम्मीदवारों से करवा रही ऐसा काम

उन्होंने आगे कहा कि, “दिग्विजय सिंह जी ने मिलने का समय मांगा था, उन्हें आज का समय मिला था, उन्होंने मुझे सूचित किया तो मैंने उनसे आग्रह किया कि मैं भी साथ चलूंगा और आज मैं उनके साथ मिलने गया। उस दिन भी मैं स्पष्ट कर चुका हूं कि मैं छिंदवाड़ा से अपने दो दिवसीय दौरे के तहत भोपाल स्टेट हैंगर पर लौटा था, उसी समय शिवराज जी अपने दौरे पर जाने के लिए स्टेट हेंगर पर पहुंचे थे तो हमारी अचानक से मुलाकात हुई। उस समय उन्होंने मुझे दिग्विजय सिंह जी के धरने के बारे में बताया था।”

कमलनाथ ने कहा कि, “दिग्विजय सिंह जी के धरना स्थल पर मुझे डूब प्रभावित किसानो ने अपनी समस्या बतायी। उनकी समस्या बिल्कुल सही है, उन्होंने मुझे बताया कि किस प्रकार मुआवजे में गड़बड़ी हो रही है, सर्वे गलत हो रहा है। उन्होंने मुझे कागज भी दिखाये कि किस तरह उनके साथ अन्याय हो रहा है।

ALSO READ: Weather Updates: बारिश ने तोड़ा सालों का रिकॉर्ड, उत्तरी भारत में पड़ रही ठिठुरन वाली ठंड

अब शिवराज जी के ऊपर है कि वो सही निर्णय करे, उनके साथ न्याय करे।” साथ ही उन्होंने किसान की परेशानियों को सीएम से अवगत कराते हुए कहा कि, आज प्रदेश का किसान त्रस्त है उनको खाद ,बीज नहीं मिल रहा है। सही मूल्य नहीं मिल रहा है। कई जगह बड़ी-बड़ी परियोजनाओ में उनकी ज़मीन जा रही है लेकिन उनको सही मुआवजा नहीं दिया जा रहा है।

इस दौरान अमर ज्योति जवान को बुझाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि, “भाजपा की नीति और नियत दोनो सामने आ रही है कि वो किस नियत से काम कर रहे हैं। यह तो पूरे देश का इतिहास मिटा देना चाहते हैं। मोदी जी चाहते हैं कि 2014 से ही देश का इतिहास लिखा जाये लेकिन वह इतिहास जरूर लिखा जाएगा। जब अगला लोकसभा आएगा, यह भूल में ना रहे। आज देश के मतदाताओं में बहुत जागरूकता है।” उन्होंने सीएम शिवराज पर हमला करते हुए कहा कि, “आज शिवराज जी जिस बूथ पर जा रहे है, वहाँ लाइट नहीं है, पीने का पानी नहीं है, शौचालय नहीं है, उज्जवला योजना के सिलेंडर नहीं है, यह प्रदेश की हालत है। ये तो अपनी आंखें बंद करकर जाते हैं ,अपने कान बंद करकर जाते हैं , सिर्फ मुँह चलाकर आ जाते हैं।

ALSO READ: Gujarat Corona : राजकोट के इस हॉस्पिटल में फूटा कोरोना बम, डॉक्टर सहित 50 पॉजिटिव

साथ ही पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने मीडिया से चर्चा में कहा कि, “मैं शिवराज जी को लगातार पत्र लिख रहा था, कितनी बार मेरे कार्यालय से उनके कार्यालय में, किन से ,कौन से नंबर से बात हुई ,उसकी जानकारी मैंने कमलनाथ जी को दी। यदि उनके अधिकारी व उनका कार्यालय उनको सूचित नहीं करता है तो उसमें मेरा कोई कसूर नहीं है। मुझे पहले 21 जनवरी का समय दिया, फिर अचानक से मना कर दिया गया। अब सूचना दी कि 23 तारीख को 11:45 बजे का समय दिया है ,हमने आज मुलाक़ात की।”