आधार कार्ड को वोटर आईडी से लिंक करना हुआ बहुत आसान, ये है पूरी प्रोसेस

सही ऑथेंटिफिकेशन और वेरिफिकेशन के लिए आधार कार्ड और वोटर आईडी को जोड़ने का काम शुरू कर दिया गया है.

चुनाव आयोग (Election Commission of India) कई राज्यों में वोटर आईडी कार्ड (Voter ID Card) को आधार कार्ड (Aadhaar Card) से जोड़ने के लिए आज से एक अभियान शुरू कर दिया है. आयोग के मुताबिक, वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने का काम वोटर की पहचान स्थापित करने और इलेक्टोरल रोल में एंट्रीज के ऑथेंटिकेशन के उद्देश्य से किया जा रहा है.

इलेक्शन कमीशन के आदेश के बाद कई राज्यों में वोटर आईडी को आधार कार्ड से जोड़ने का अभियान शुरू किया गया है. इस अभियान को वोटर आईडी की पहचान स्थापित करने और इलेक्टोरल में एंट्री के ऑथेंटिकेशन के उद्देश्य से शुरू किया गया है.

Must Read- पैन कार्ड को आधार से लिंक करना है जरूरी, निरस्त हो सकता है पैन नंबर, रुक सकते है कई काम

दिसंबर 2021 में लोकसभा में चुनाव क़ानून संशोधन बिल पारित किया गया था. इस बिल में वोटर आईडी को आधार कार्ड से लिंक करने के लिए कानून में संशोधन करने की बात कही गई. इस बिल को ध्वनि मत के साथ लोकसभा में पारित किया गया था.

रिपोर्ट्स के मुताबिक इस तरह के अभियान महाराष्ट्र और झारखंड जैसे राज्यों में शुरू किए जा रहे हैं. हालांकि ये स्वेछिक प्रक्रिया है, किसी को भी इसके लिए मजबूर नह किया जाएगा.

इस तरह लिंक होगा वोटर आईडी से आधार कार्ड

  • नेशनल वोटर सर्विस पोर्टल की ऑफिशियल वेबसाइट www.nvsp.in पर जाकर रजिस्टरड करें.
  • यहां दिए न्यू यूजर के ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • यहां अपना मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद सामने आए सिक्योरिटी कोड को दर्ज करें.
  • मोबाइल पर OTP को दर्ज करने के बाद यहां अपनी साडी जानकारी डालें और सबमिट कर दें.
  • वोटर लिस्ट के साथ आधार कार्ड को जोड़ने के लिए चलाया जा रहा ये अभियान 31 मार्च 2023 तक पूरा किया जाने वाला है.