Business Ideas: अगर आपका भी बिजनेस स्टार्ट करने का प्लान है और आपके पास कोई आइडिया नहीं है तो आज हम आपको एक सुपरहिट बिजनेस आइडिया यानी एक शानदार व्यवसायी योजना बता रहे हैं. तो चलिए जानते हैं इस बिजनेस के बारे में संक्षिप्त में

Business Idea: खैर यूं तो व्यवसाय को शुरू करने के हजारों आइडिया हैं लेकिन उनमें से एक सुपरहिट आइडिया है चिल्ड्रन गारमेंट्स (Children Garments) अथवा बच्चों के लिए कपड़े बनाने का व्यवसाय. हमारे देश में हर दिन हजारों बच्चे पैदा होते हैं, इसके पश्चात किड्स गारमेंट्स की ज़रूरत और मांग हमेशा एक वयस्क गारमेंट की मुक़ाबलें में अधिक होती है. ऐसे में बच्चों के लिए कपड़ों के व्यापार करने का बिजनेस एक फायदेमंद डील साबित हो सकती है. बच्चों के कपड़े एक आवश्यक चीज हैं और रंग-बिरंगे कपड़ों में बच्चे बेहद प्यारे लगते हैं. नए फैशन ट्रेंड के चलते कपड़ो के उपयोग का चलन दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है. बच्चों के कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग बहुत ही साधारण तरीके से आसानी से होती है.

कपड़ों के बिजनेस को शुरू करने में कितनी धनराशि लगेगी

खादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) ने चिल्ड्रन गारमेंट (बच्चों के कपड़ों) के व्यवसाय पर एक प्रोजेक्ट विवरण तैयार किया है. सूत्रों के अनुसार, बच्चों के कपड़े बनाने का व्यवसाय 9,85,000 रुपये में शुरू हो जाएगा. इसमें 6,75,000 रुपये उपकरण पर खर्च होंगे. जबकि वर्किंग कैपिटल के लिए 3,10,000 रुपये की जरूरत होगी. इस तरह, कुल प्रोजेक्ट कॉस्ट 9.50 लाख रुपये हुए.

मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस

इस प्रोसेस में कपड़ों को अलग-अलग रंगों में डिजाइनों पर एक टेबल पर फैलाया जाता है और कपड़ों के आवश्यक आकार के साथ हाथ की कैंची से काटा जाता है. कटे हुए टुकड़ों को सिलाई मशीनों से सिल दिया जाता है. हुक आईलेट्स और बटन अटैच करना आदि मैन्युअल रूप से किया जाता है. इसके बाद इसे प्रेस कर पैक कर दिया जाता है.

Also Read – जबरदस्त विवादों में घिरी पठान, क्या अब शाहरुख खान टालेंगे फिल्म की रिलीज, जाने क्या हैं पूरी सच्चाई

गारमेंट बिजनेस लाइसेंस होना आवशयक हैं

गारमेंट के व्यवसाय के लिए हर प्रकार के व्यवसाय की तरह ट्रेड लाइसेंस महत्वपूर्ण होता है. ट्रेड लाइसेंस आपकी लोकल मुन्सिपलिट के माध्यम से जारी किया जाता है. ट्रेड लाइसेंस के अतिरिक्त गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) के लिए रजिस्ट्रेशन महत्वपूर्ण होता है.

कितना हो सकता है लाभ

खादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC की रिपोर्ट के अनुसार , चिल्ड्रन गारमेंट्स के व्यवसाय से साल भर में 90,000 क्लॉथ्स बनेंगे. 76 रुपये के दर से इसकी कीमत 37,62,000 रुपये होगी. प्रोजेक्टेड सेल्स 42,00,000 रुपये की होगी. ग्रॉस सरप्लस 4,37,500 रुपये होगा. एक वर्ष में 3,70,000 रुपये की कमाई हो सकती है. अगर आपके पास भी ये नए व्यवसाय को शुरू करने के लिए पैसे नहीं तो आप पीएम मुद्रा लोन स्कीम (PM Mudra Loan Scheme) के तहत लोन ले सकते हैं. प्रोजेक्ट रिपोर्ट के अनुसार आप बैंक से लोन के लिए बेहद सरलता से अप्लाई कर सकते हैं.