भाजपा नेता ने की ब्राह्मण समाज पर आपत्तिजनक टिप्पणी, आलाकमान ने किया पार्टी से निष्कासित

आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद प्रीतम लोधी ने ब्राह्मण समाज से लिखित में माफी मांगी है। मैं स्वीकार करता हूं। लेकिन मैं स्वयं ब्राह्मण समाज और सभी समाजजनों का आदर भी करता हूं। मुझे जो भी भूल हो गई है और मेरे बयान के टुकड़े करके उसे जोड़ तोड़ कर पेश किया गया है।

ब्राह्मण समाज को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में भाजपा नेता प्रीतम लोधी ने अब माफी मांगी है। ब्राह्मण समाज पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर करने वाले बीजेपी ने उमा भारती समर्थक बीजेपी के सीनियर नेता प्रीतम लोधी को निष्कासित कर दिया है। प्रीतम लोधी की बीजेपी से प्राथमिक सदस्यता भी निष्काशित की गई है।

बताया जा रहा है कि ब्राह्मण समाज की नाराजगी को देखते हुए बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने यह फैसला लेते हुए उन्हें पार्टी की सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। भाजपा नेता पीतम लोधी को पार्टी की नाराजगी तो सहन करना पड़ रही है लेकिन अब एफआईआर भी दर्ज होने के बाद अब प्रीतम लोधी बैकफुट पर आ गए है।

Must Read- 10 से अधिक बच्चे पैदा करने वाली महिलाओं को 13 लाख रुपये देंगे राष्ट्रपति पुतिन

आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद प्रीतम लोधी ने ब्राह्मण समाज से लिखित में माफी मांगी है। माफी मांगते हुए उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा दिए गए बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। ब्राह्मण समाज के बारे में मैंने जो भी बातें सामने आ रही है, वह मैंने कहा है और इसे मैं स्वीकार करता हूं। लेकिन मैं स्वयं ब्राह्मण समाज और सभी समाजजनों का आदर भी करता हूं। मुझे जो भी भूल हो गई है और मेरे बयान के टुकड़े करके उसे जोड़ तोड़ कर पेश किया गया है। जिससे ब्राह्मण समाज को निश्चित तौर पर ठेस पंहुची है।

शुक्रवार को प्रीतम लोधी राजधानी भोपाल स्थित पार्टी कार्यालय पर पहुंचे। यहां पर वीडी शर्मा ने प्रीतम लोधी को जमकर फटकार लगाई। दरअसल प्रीतम लोधी ने ब्राह्मणों को लेकर कहा था कि “आपको 9 दिन रोजाना 7 से 8 घंटे तक पागल बनाते हैं और सबसे ज्यादा दान की बात करते हैं। अगर तुम दान दोगे तो भगवान तुमको देगा, पूरा गांव दोगे तो और भी ज्यादा देगा। 9 दिन तक ब्राह्मण पूरे गांव में सम्मान दक्षिणा लेते है और 9 दिन बाद रफूचक्कर हो जाते हैं। यह आपको 9 दिनों तक ब्राह्मण आपको उल्लू बनाते हैं, बातें करने में आप से 25 से ₹50 हजार रुपये तक भी ले लेते हैं। प्रीतम लोधी ने मंच से भी यह भी कहा कि “अगर ब्राह्मण यह देख लेता की सुंदर महिलाएं कौन से घर में है तो उनके नाम माइक से ले -ले कर उन्हें इतना प्रफुल्लित कर देते हैं और फिर बाद में उनके यही भोजन पर चले जाते है।