यह है दुनिया के सबसे अमीर मंदिर, चौथे नंबर के मंदिर में तो लगता है सोने की बाढ़ ही आ गई | World Richest Temple in India…

0
25
pashupati

भारत ही नहीं हर देश में भगवान के प्रति भक्तों की आस्था इतनी है कि वह अपने ईष्ट को महंगे से महंगा चढ़ावा भी देने से नहीं चुंकते। हमने ऐसे कई मंदिरों के बारे में सुना तो होगा ही जहां देश के अमीरों से ज्यादा पैसा है। आज हम आपको ऐसे ही मंदिरों के बारे में बता रहे जो सबसे अमीर मंदिरों में से है।

शिर्डी वाले साईं बाबा

सबसे पहले बात करते है शिर्डी के साईं बाबा की देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी शिर्डी के साईं साबा के भक्तों की भरमार है। साईं बाबा जो कि एक भिक्षुक थे। साईं बाबा पर हर धर्म के लोग विश्वास करते हैं। नासिक में स्थित शिर्डी में साईं बाबा के मंदिर के चढ़ावे के बारे में जानकर आपको हैरानी होगी। मंदिर मे चढ़ावे के लिए ही इतनी रकम आ जाती है कि मंदिर के मैनटेनंस के लिए किसी और जरिए की जरुरत ही नहीं होती।

शिर्डी के साईं मंदिर में हजारों भक्त दर्शन के लिए आते हैं जिनमें से सैकड़ों लोग दान करते हैं। आज कल तो चढ़ावा देने के लिए ऑनलाइन प्रोसेस भी चालू हो गई है। माना जाता है कि इनका सिंहासन 94 किलोग्राम सोने का बना है और यहां पर मात्र लोगों के द्वारा 100 मिलियन दान किया गया है। यह मंदिर भारत के अमीर मंदिरों की लिस्ट में से एक है।

पशुपतिनाथ मंदिर

अब बात करते है नेपाल में स्थित पशुपतिनाथ मंदिर की जहां की संपत्ति सरकार द्वारा पहली बार घोषित की गई है। इसके अनुसार, मंदिर के खजाने में नकद 120 करोड़ रुपये हैं। इसके अलावा संपत्ति के रूप में मंदिर के पास 9.276 किलोग्राम सोना और 316 किलोग्राम चांदी है। मंदिर ट्रस्ट के नाम 186 हेक्टेयर जमीन भी है। नेपाल की राजधानी काठमांडू स्थित यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जांच समिति ने 10 महिने के अध्ययन के बाद संपत्ति की जानकारी दी है।

तिरुपति बालाजी

आंध्र प्रदेश के तिरुपति स्थित दुनिया में हिंदुओं के सबसे वैभवशाली तिरुपति बालाजी मंदिर के पास 9 हजार किलो से ज्यादा सोना है। अधिकारियों के बताए अनुसार श्री वेंकटेश्वर मंदिर के प्रबंधक तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) का 7 हजार 235 किलो सोना विभिन्न जमा योजनाओं के तहत देश के दो राष्ट्रीयकृत बैंकों के पास जमा है। टीटीडी के खजाने में 1 हजार 934 किलो सोना है।

पद्मनाभ स्वामी (भगवान विष्णु) का मंदिर

केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम के मध्य में स्थित है पद्मनाभ स्वामी का मंदिर। विशाल किले की तरह दिखने वाला यह मंदिर विष्णु भक्तों के लिए महत्वपूर्ण आस्था स्थल है। यहां भगवान विष्णु शेषनाग पर शयन मुद्रा में विराजमान हैं। मंदिर का इतिहास काफी पुराना है। महाभारत के अनुसार श्री कृष्ण के बड़े भाई बलराम इस मंदिर में आए थे और यहां पूजा-अर्चना की थी। यहां भगवान विष्णु का श्रृंगार शुद्ध सोने के भारी भरकम आभूषणों से किया जाता है।

हाल ही में मंदिर के अंदर का वाल्व खोला गया था जिसमें सोने, चांदी और हीरे की जैसे बाढ़ सी आ गई थी। कुछ लोग यहां की संपत्ति का अनुमान लगाकर बताते हैं कि यहां 1 खरब डॉलर के मूल्य की संपत्ति है। ऐसा माना जाता है कि शायद ही ऐसा कोई मंदिर होगा जिसके पास इतनी संपत्ति होगी और कोई भी मंदिर इसका मुकाबला कर सकता है।

मुंबई के सिद्धी विनायक

सिद्धि विनायक मंदिर गणपति बप्पा का सबसे लोकप्रिय मंदिर है जो कि मुबई में स्थित है। इस मंदिर में भी दुनिया भर के भक्त आते हैं, लेकिन यह मंदिर खासतौर पर बॉलीवुड हस्तियों के द्वारा जाना जाता है। गणेश जी का गंबद यहां पर 3.7 किलो ग्राम सोने से लेपित है। 100 करोड़ से अधिक की वार्षिक आय और 125 करोड़ की जमा राशि के साथ, यह भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक है।