International Wome’s Day : इंदौर एयरपोर्ट पर शिवराज द्वारा ‘महिला शक्ति’ सम्मानित

इंदौर : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान(CM Shivraj) आज प्रात: 10:40 बजे इंदौर एयरपोर्ट पहुंचे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विश्व महिला दिवस के अवसर पर संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, विधायक श्रीमती मालिनी गौड़, श्रीमती कविता पाटीदार सहित एयरपोर्ट पर उपस्थित अन्य महिला शक्तियों को पुष्पगुच्छ भेंट कर सम्मानित किया।

तद्पश्चात मुख्यमंत्री श्री चौहान, श्री जे.पी. नड्डा(JP Nadda) के साथ कार द्वारा उज्जैन के लिये रवाना हुये। इस अवसर पर जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, सांसद श्री शंकर लालवानी, विधायकगण सहित अन्य जनप्रतिनिधि, संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, पुलिस कमिश्नर श्री हरिनारायणचारी मिश्र, कलेक्टर श्री मनीष सिंह एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़े : खाद्य तेलों के दाम में आई गिरावट, जाने आज के भाव

इसी कड़ी में आपको बता दे कि आज पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी ने पोलोग्राउंड मुख्यालय में महिलाओं के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किया। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में पीटीएस की एडिशनल एसपी श्रीमती सुनीता रावत ने कहा कि महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए समाज आए आए, महिलाएं स्वयं भी अपना आत्म विश्वास बढ़ाए, ऐसे में उन्हें सफलता मिलती जाएगी। एएसपी ने कहा कि जीवन में चुनौतियां हर क्षेत्र में है, परिस्थिति का सामना करने के लिए आंतरिक मजबूती जरूरी है, यह महिलाओं को शक्ति प्रदान करती है, आगे बढ़ाती जाती है। विशेष अतिथि समाजसेवी व प्रो. श्रीमती साधना राज ने कहा कि महिलाएं निडर, निर्भय और दबंगतापूर्वक अपना कार्य करे, यदि कोई परेशानी है तो खुलकर बताए, कानून उनकी मदद करेगा।

यह भी पढ़े :  Indore के दौरे पर JP Nadda, महामंत्री सुहास भगत की माता को दी श्रद्धांजलि

महिलाएं युगों युगों से सृष्टि की ताकत है, महिलाएं हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त कर रही है, बिजली कंपनी महिलाओं के सम्मान में अनोखा कार्यक्रम आयोजित कर बहुत ही प्रेरणा दी है। आयोजन में मप्रपक्षेविविकं के प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर, मुख्य महाप्रबंधक श्री रिंकेश कुमार वैश्य ने कहा कि महिलाएं घरों में माता, बहन, बेटी,पत्नी के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है,  साथ ही कोई भी पेशा, नौकरी, प्रतिष्ठान संचालन आदि में भी सक्रियता से कार्य करती है। महिलाओं का सम्मान कर आज हम स्वयं को सम्मानित सा महसूस कर रहे है।