उज्जैन में आज मकर सक्रांति के मौके पर पतंगबाजी के दौरान एक महिला पत्रकार का गला चाइनीस मांझे में फंस गया। उज्जैन की महिला पत्रकार प्रेक्षा दुबे किसी काम से अपने घर से बाहर गई हुई थी। स्कूटी सवार प्रेक्षा जब अपने घर से कुछ दूरी पर निकली तो अचानक उनके गले में चाइनीस मांझा फंस गया।

गनीमत इस बात की थी की वह ज्यादा स्पीड में नहीं थीं। गले में धागा फंसते ही उन्होंने तुरंत गाड़ी रोकी और धागे को जैसे तैसे काटा। यदि गाड़ी स्पीड में होती तो शायद गंभीर हादसा घट सकता था। गौरतलब है कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद राज्य सरकारों को कहा गया था कि चाइनीस मांझे की खरीद-फरोख्त या इस्तेमाल करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

Also Read : मप्र के भिंड में 3 लोगों की दिनदहाड़े हत्या, सरपंच चुनाव को लेकर हुई ताबड़तोड़ फायरिंग

इसके बाद उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने भी सख्ती दिखाते हुए चाइनीज मांझे के खिलाफ प्रतिबंधात्मक धारा 144 लगाई गई। कलेक्टर आशीष सिंह ने यह भी कहा था कि जो कोई चाइनीस मांझे को बेचेगा तो उसका घर मकान भी तोड़ दिया जाएगा बावजूद इसके उज्जैन में आज मकर सक्रांति के मौके पर चाइनीज मांझा का इस्तेमाल किया गया। पिछले साल चाइनीस मांझे की वजह से उज्जैन में एक युवक की मौत हो चुकी है।