महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) अक्सर अपने गेम शो कौन बनेगा करोड़पति पर अपने बारे में कई बातें बताते रहते हैं। अमिताभ कभी अपने बचपन की बात, तो कभी अपनी कॉलेज लाइफ डिस्कस करते हैं। बिग बी कंटेस्टेंट से बिल्कुल अपनों जैसा व्यवहार करते हैं, और बातचीत करते हैं। इस बार फिर से कुछ ऐसा ही हुआ। अमिताभ ने कंटेस्टेंट से बातचीत के दौरान बताया कि एक बार उन्होंने अपने पिता से उनके पैदा होने की वजह पूछ ली थी ।

Also Read – Kareena Kapoor की व्हाट्सएप की प्राइवेट चैट हुई लीक, पसंद नही चॉकलेट फ्लेवर, हुए कई खुलासे

जिंदगी से थक गए थे अमिताभ

बिग बी अक्सर ही बचपन और जवानी की यादों में डूब जाते है। केबीसी के मंच पर जहां वो कंटेस्टेंट से बातें कर उनके मन की फीलिंग्स को पूछते हैं, वहीं वह अपनी भी कई कहानियां-किस्से शेयर करते हैं। अमिताभ ने ऐसा ही एक अपने पिताजी हरिवंश राय बच्चन के साथ का किस्सा दर्शकों के साथ साझा किया। अमिताभ ने 2008 में एक ब्लॉग लिखा था। जहां उन्होंने युवाओं को मिलने वाली आजादी के बाद के प्रेशर को जाहिर किया था। अमितभ ने बताया था कि कैसे नई-नई मिली आजादी से वो तंग हो गए थे। वो हर दिन करने वाली मेहनत, मजदूरी से इतने थक और परेशान हो गए थे, कि अपने पिताजी से एक अजीब सा सवाल कर बैठे थे।

Also Read – गोल्डन लहंगे में बला की खूबसूरत दिखीं Sonakshi Sinha, कैमरे में कैद हुआ सिज़लिंग अंदाज़

पिता पर चिल्लाए बिग बी

बिग बी ने ब्लॉग में ये भी बताया था कि उन दिनों वो कितने फ्रस्ट्रेट रहते थे। आने वाले कल की टेंशन, इस बात का गुस्सा की पता नहीं आगे क्या करना है क्या होगा। एक बार इसी टेंशन और गुस्से में वो अपने पिताजी के पास चले गए। अमिताभ ने कहा- एक फालतू की सोच को अपने मन में लेकर गुस्से में अपने पिताजी के स्टडी रूम में चला गया। जिंदगी में पहली बार मैंने अपने पिताजी से ऊंची आवाज में बात की थी। मैंने चिल्लाकर उनसे कहा- आपने मुझे पैदा क्यों किया?

पिता ने दिया जवाब

बिग बी ने आगे बताया- मेरे पापा हमेशा अपनी लिखाई में खोए हुए रहते थे। उन्होंने अपना चेहरा उठाया मेरी ओर देखा और फिर वापिस आराम से बैठ गए। वो उसी तरह बहुत देर तक बैठे रहे, कमरे में एकदम सन्नाटा छा गया, ना मैंने कुछ कहा और ना उन्होंने, एक आवाज तक नहीं आई कमरे में से। जब दोनों में से किसी ने भी कुछ नहीं कहा तो मैं कमरे से चला गया। वो रात उनके लिए बहुत ही अन्कम्फरटेबल रात थी।