व्हाट्सएप यूजर्स हो जाए सावधान, स्कैम से बचने के लिए CID ने जारी की एडवाइजरी

व्हाट्सएप बाकी सभी सोशल मीडिया एप्प्स से बहुत ज्यादा ही पॉपुलर है। ऐसे में स्कैमर्स कई तरह से व्हाट्सएप यूजर्स को टारगेट बनाने की कोशिश करते हैं और यूजर्स भी इसका शिकार हो जाते हैं।

हैकर्स लगातार ऑनलाइन के माध्यम से लोगों को ठगने का प्रयास कर रहे हैं। इसके चलते अब सोशल मीडिया का भी जमकर फायदा उठा रहे है। हालांकि व्हाट्सएप बाकी सभी सोशल मीडिया एप्प्स से बहुत ज्यादा ही पॉपुलर है। ऐसे में स्कैमर्स कई तरह से व्हाट्सएप यूजर्स को टारगेट बनाने की कोशिश करते हैं और यूजर्स भी इसका शिकार हो जाते हैं। जिसके चलते उन्हें कई तरह से आर्थिक नुकसान भी झेलना पड़ता है। व्हाट्सएप पर कभी जॉब लगवाने को लेकर मैसेज भेजकर पैसे की मांग की जाती है। तो कभी कोई लिंक भेजकर अकाउंट खाली कर दिया जाता है। स्कैमर्स कई बार बैंकिंग या सरकारी डिपार्टमेंट की ओर से मैसेज भेजे जाने का दावा कर यूजर्स को निशाने पर लेने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। ऐसे में यूजर्स भी उनका शिकार बन जाते हैं। क्योंकि उनका मकसद अपने टारगेट को पूरा करना होता है तो इसके लिए वो यूजर्स से पैसा निकलवाने की कोशिश करते हैं। यहां तक कि कई बार व्हाट्सएप यूजर्स की पर्सनल डेटा को भी हैक कर लिया जाता है। हाल ही में व्हाट्सएप बैंकिंग के जरिए कई सेलिब्रिटी भी इन स्कैमर्स के फ्रॉड का शिकार हो चुकी है और इनके जाल में फंस चुकी है।

हालांकि अब व्हाट्सएप पर लगातार हो रहे फ्रॉड को लेकर असम के क्रिमिनल इन्वेस्टिगेशन डिपार्टमेंट ने व्हाट्सएप यूजर्स के लिए चेतावनी जारी की है। असम के सीआईडी ने इसको लेकर एक पब्लिक एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि “ऑनलाइन फ्रॉडस्टर्स जाने-माने अफसर का प्रोफाइल और फोटो के साथ नाम का यूज कर लेते हैं”। उसके बाद व्हाट्सएप यूजर्स को कई तरीकों से मन बहला कर उन्हें गुमराह करने की कोशिश करते हैं। ऐसे में कई बार मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री तक के फोटो का उपयोग करके यूजर्स को ठग लेते हैं। व्हाट्सएप यूजर्स भी इनके बहकावे में आकर पैसे ट्रांसफर कर देते हैं या फिर उनके बताए अनुसार काम करके परेशानी में आ जाते हैं।

Must Read- BGMI को भी PUBG की तरह किया जा रहा है बैन? प्ले स्टोर से गायब हुआ ऐप

स्कैमर्स सबसे पहले कॉन्टैक्ट लिस्ट का अनऑथोराइज्ड एक्सेस ले लेते हैं और उसके बाद किसी संस्था के जरिए सभी जानकारियों के साथ अपने कर्मचारियों की ऑफिशियल वेबसाइट से कलेक्ट करलेते हैं। स्कैमर्स सीनियर ऑफिसर या फिर नेता के नाम की जानकारी वेबसाइट सोशल मीडिया ईमेल या फिर मैसेंजर से भी निकाल कर उनके नाम से लोगों को मैसेज करके उनके साथ फ्रॉड करते हैं।

इसको लेकर अब सीआईडी ने यूजर्स को मैसेज या ईमेल के झंझट में नहीं पड़ने की चेतावनी दी है। CID ने कहा है कि अगर इस तरह के कोई भी मैसेज आते हैं या फिर खरीदारी के लिए पेमेंट करने के लिए भी किसी लिंक पर टच करने के लिए कहा जाता है या फिर कोई अन्य संदिग्ध लिंक लगती है तो उस पर बिल्कुल भी टच ना करें, उसे बिल्कुल भी ओपन नहीं करना चाहिए। ओपन करने से पहले उसके बारे में वेरीफाई कर ले। किसी भी तरह के फ्रॉड का अगर शिकार होते हैं, तो साइबर सेल की मदद लेकर इससे बाहर निकल सकते हैं। लेकिन इतना करने के साथ आप व्हाट्सएप को भी शिकायत जरूर करें। सोशल मीडिया पर स्कैमर्स लगातार व्हाट्सएप यूजर्स को ठगने का प्रयास कर रहे हैं और पैसे ऐंठने की कोशिश में लगे रहते हैं। जिसके बाद अब CID ने व्हाट्सएप यूजर्स के लिए एडवाइजरी जारी कर यूजर्स को सतर्क रहने के लिए कहा है।