हावड़ा में फिर हुई हिंसा, उपद्रवियों पर दागे गए आंसू गैस के गोले, रांची में इंटरनेट बंद

नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में देशभर में प्रदर्शन जारी है. कई जगह प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ की खबरें देखी जा रही है.

दिल्ली। नूपुर शर्मा के द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर किए गए बयान के बाद से देशभर में विरोध का सिलसिला जारी है. कल जुमे की नमाज के बाद अचानक ही यह विरोध प्रदर्शन तेज हो गए हैं और हिंसक घटनाएं देखी गई हैं. प्रयागराज से हावड़ा और रांची तक हिंसक घटनाओं में कई लोग घायल हुए हैं पुलिस लगातार आरोपियों की पहचान करने और उन्हें पकड़ने में लगी हुई है. रांची में प्रशासन की ओर से लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने को कहा गया है जो लोग घर से बाहर निकलेंगे उन्हें हिरासत में लेने का ऐलान किया गया है.

रांची में शुक्रवार को प्रदर्शन के बाद भड़की हिंसा को देखते हुए 12 जून तक इंटरनेट पर रोक लगा दी गई है. सभी थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू है. पुलिस की ओर से स्थिति नियंत्रण में होने जाने की बात कही जा रही है वहीं सभी जगह अतिरिक्त सुरक्षा बल लगाया गया है.

Must Read- MP Weather: बारिश से तापमान में आई गिरावट, आज इन जिलों में बरसेंगे बादल, 15 के बाद एंट्री लेगा मानसून

पश्चिम बंगाल के हावड़ा में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प भी हुई है. यहां पर प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया जिसके बाद पुलिस की ओर से आंसू गैस के गोले छोड़े गए. हावड़ा हिंसा में अब तक 70 लोगों को गिरफ्तार करते हुए 13 जून तक इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है. यहां के उलुबेरिया सब डिवीजन में धारा 144 भी लागू की गई है.

प्रयागराज में हुई हिंसा के मास्टरमाइंड जावेद अहमद को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया है कि आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत धाराएं लगाकर कार्रवाई की जाएगी असामाजिक तत्वों ने पुलिस प्रशासन पर पत्थरबाजी की है और नाबालिक बच्चों को आगे बढ़ाया है.

शुक्रवार को हुई हिंसा के बाद यूपी पुलिस एक्शन में दिखाई दे रही है और अब तक 229 लोगों को हिरासत में ले चुकी है. प्रयागराज से 70 सहारनपुर से 48 हाथरस से 50 अंबेडकर नगर से 28 मुरादाबाद से 25 और फिरोजाबाद से 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस भी दर्ज किया गया है.