उत्तर प्रदेश के कन्नौज से मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। जहाँ गंभीर रूप से घायल और लहूलुहान 13 वर्षीय बच्ची लोगों से मदद की गुहार लगाती रही, लेकिन आसपास खड़े लोगों ने उसकी कोई मदद नहीं की, बल्कि उसे घेर कर उसका वीडियो बनाते रहे।

जिसके बाद एक पुलिसकर्मी बच्ची को गोदी में उठाकर ऑटो रिक्शा के जरिए अस्पताल लेकर गया। परिजनों की शिकायत पर मामले में रेप का केस दर्ज किया गया है। घायल बच्ची एक सरकारी गेस्ट हाउस के पास स्थित झाड़ियों में मिली थी।

शिकायत के अनुसार, बच्ची रविवार दोपहर को अपनी गुल्लक बदलने के लिए घर से निकली थी, लेकिन पांच घंटे बाद तक वापस नहीं आई। गेस्ट हाउस के गार्ड ने उसे झाड़ियों में देखकर पुलिस को सूचित किया। बच्ची के शरीर पर चोट के कई निशान हैं जिनमें सिर पर गंभीर चोट भी शामिल है।

 

Also Read: Shooting : पूर्वी लंदन में गोलीबारी हुई घटना, दो लोगों की मौत एक हुआ गंभीर घायल

पुलिस ने अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया है, लेकिन उसे एक शख्स पर शक है और उसकी तलाश की जा रही है। CCTV कैमरे में इस शख्स को बच्ची से बात करते हुए देखा जा सकता है और उसी पर बच्ची को बहला-फुसलाकर गेस्ट हाउस के पास ले जाने का शक है। आखिरी बार वही बच्ची के साथ देखा गया था।