केन्द्रीय मंत्री ने उज्जैन में दिव्यांग पार्क का किया अवलोकन, सुविधाओं को भी देखा

उज्जैन 24 फरवरी। भारत सरकार के सड़क परिवहन और राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज उज्जैन में बने अटल बिहारी वाजपेयी स्मृति दिव्यांग अनुभूति उद्यान का अवलोकन कर यहां दिव्यांगों के लिए गई सुरम्य प्राकृतिक वातावरण उपलब्ध कराई गई सुविधाओं को देखा। इस दौरान क्षेत्रीय सांसद अनिल फिरोजिया, उज्जैन के पूर्व कलेक्टर एवं ओएसडी संकेत भोंडवे, यूडीए सीईओ एसएस रावत, एनजीओ के पंकज मारू भी मौजूद थे। इस दौरान केन्द्रीय मंत्री गड़करी ने दिव्यांग रमेश मालवीय को कान की मशीन, सेल, नी ब्रेस, कमर पट्टा, छड़ी तथा व्हील चेयर फूंदी बाई मालवीय को कान की मशीन, सेल, छड़ी तथा व्हील चेयर, रामचन्द्र भिसे को ट्रायसिकल एवं बैसाखी तथा कु.तनिष्का को स्मार्ट फोन प्रदान किया।

ALSO READ: नितिन गडकरी का दावा, अगले 5 साल में America जैसी सड़क और महाकाल की नगरी में चलेगी एयर टैक्सी

इस पार्क में दिव्यांग जनों में अन्य सामान्य जनों की तरह ही अनुभूति के विकास के लिए उनकी आवश्यकताओं यथा-ट्रेकटाईल्स (बेललिपि) इत्यादि को ज्ञान, मनोरंजन पूर्ण वातावरण उपलब्ध कराया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि इस पार्क का निर्माण वर्ष 2017 में 3 करोड़ रूपए लागत से हुआ था। उज्जैन विकास प्राधिकरण के निर्देशन में निर्मित इस उद्यान में जनता के उत्तम स्वास्थ्य आदि के लिए एक्युप्रेशर ट्रेक, ओपन जिम मशीनरी, रोप इक्युपमेन्ट्स मेडिशिनल प्लांट, सांइस इक्युपमेन्ट्स आदि की व्यवस्थाए भी की गई है।

ALSO READ: Ukraine-Russia: MP के ये 27 छात्र फंसे हैं Ukraine में, गृहमंत्री ने बुलाई थी आपात बैठक

केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने दिव्यांग पार्क मे दिव्यांगजनों के मनोरंजन, संवंर्द्धन एवं थेरेपि (चिकित्सा) आदि के लिए बनाए गए जीम का अवलोकन किया। केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने पार्क में उपलब्ध कराई गई सुविधाओं का अवलोकर करते हुए किए गए कार्य की प्रशंसा की। इस दौरान दृष्टिबाधित दिव्यांग ग्रेसी परमार ने पार्क में उपलब्ध कराई गई सुविधाओं के बारे में ब्रेल लिपि में लिखे गए कोट्स को पढ़कर सुनाया। वही द़ष्टि बाधित दिव्यांग आर्यन एवं पीयूष ने शतरंज का खेल दिखाया। इनके लिए शतरंज की विशेष प्रकार के मोहरे बने हुए थे। यहां मूक बधिर विद्यालय की छात्राओं ने पारंपरिक लोक नृत्य भी प्रस्तुत किया।