डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद है ये फल, शुगर पर भी रहेगा कंट्रोल

दुनियाभर में दिन प्रतिदिन सभी लोग किसी न किसी बीमारी के शिकार होते जा रहे हैं और डायबिटीज भी एक खतरनाक बीमारी के रूप में हैं डायबिटीज के मरीजों की संख्या भी काफी बढ़ती जा रही है।

0
74
फल

दुनियाभर में दिन प्रतिदिन सभी लोग किसी न किसी बीमारी के शिकार होते जा रहे हैं और डायबिटीज भी एक खतरनाक बीमारी के रूप में हैं डायबिटीज के मरीजों की संख्या भी काफी बढ़ती जा रही है। इस बीमारी के बढ़ने के बहुत से कारण हैं जिनमें तनाव, गलत खानपान के साथ ही आनुवांशिकता भी एक अहम वजह है लेकिन डायबिटीज के मरीज भी स्वस्थ जीवन जी सकते हैं। इसके लिए उन्हें सही आहार और दिनचर्या की आवश्यकता है।

डायबिटीज उस स्थिति को कहा जाता है जब ब्लड शुगर लेवल या ग्लूकोज अधिक हो जाए। डायबिटीज से किडनी दिल से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं। इस बीमारी से पीड़ित लोगों को डाइट का खास ध्यान रखने की सलाह दी जाती है स्वस्थ रहने के लिए फलों का सेवन फायदेमंद होता है और शुगर के मरीजों के लिए बहुत से फल नुकसानदेह भी हो सकते हैं, इसलिए डायबिटीज में कौन से फलों का सेवन करना चाहिए, आइए जाने।

  • सेब में घुलनशील और और अघुलनशील दोनों तरह के फाइबर होते हैं, जो ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण में रखने में मददगार होते हैं।
  • बहुत ज्यादा पके फलों में शुगर की मात्रा कम पके या थोड़ा कच्चे फलों की तुलना में ज्यादा होती है। इसलिए ज्यादा पके फलों को खाने से हमेशा बचना चाहिए।
  • अमरूद में लो ग्लाइकैमिक इंडेक्स यानी जीआई होता है जो ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखने में मददगार होता है। डायबिटीज और दिल के रोगियों के लिए अमरूद बहुत अच्छा साबित होता है। अमरूद में अच्छी मात्रा में विटामिन सी विटामिन ए, फॉलेट, पोटैशियम भी पाया जाता है।
  • फलों का छिलका स्वाद बढाने के चक्कर में न उतारें। फलों के छिलकों में प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है, जो कि फायदेमंद है।
  • डायबिटीज के मरीजों के लिए संतरा को सुपरफूड माना गया है। इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर, विटामिन सी, फोलेट और पोटेशियम होता है जो डायबिटीज में राहत दिलाने का काम करता है।
  • जिन फलों में ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम मात्रा में पाए जाते हैं उनका सेवन करने से शरीर में शुगर की मात्रा नहीं बढ़ती है। इसलिए अमरूद, सेब, नाशपाती, संतरा, अंगूर जैसे फलों का सेवन किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here