आंध्रप्रदेश की सियासत में मचा बवाल, चंद्रबाबू नायडू और बेटा नारा लोकेश नजरबंद

0

नई दिल्ली। आंध प्रदेश में टीडीपी नेता की हत्या के विरोध में पूर्व मुख्यमंत्री और तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन करने वाले थे, लेकिन घर से निकलने से पहले ही सरकार ने चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे नारा लोकेश को नजरबंद कर दिया है। इससे प्रदेश की सियासत गर्मा गई है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने नायडू और उनके बेटे को घर से निकलने से रोक दिया और दोनों को हाउस अरेस्ट कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू अपनी पार्टी के नेता की हत्या के विरोध में प्रदर्शन करने वाले थे। चंद्रबाबू नायडू ने अपने घर पर ही आज सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक भूख हड़ताल का ऐलान किया। इस ऐलान के बाद समर्थक नायडू के घर जा रहे थे, जिन्हें पुलिस ने रोक दिया और कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है। इससे पहले टीडीपी के महासचिव और एमएलसी नारा लोकेश जब अथमाकुर में हो रहे प्रदर्शन में शामिल हो जा रहे थे, तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। पुलिस ने इलाके में धारा 144 लागू कर दिया है। पार्टी के कई वरिष्ठ नेता जो अथमाकुर जा रहे थे, उन्हें भी हिरासत में लिया गया। इधर, पार्टी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू के अमरावती स्थित आवास की ओर जा रहे नेताओं को भी पुलिस ने रोक लिया गया है।