धन की प्राप्ति के लिए सोमवार को करें इन मंत्रो का जाप, सारी समस्या होंगी दूर

0
64
shiv

सावन का महीना भगवान शिव का महीना माना जाता है। पंचाग के अनुसार इस बार सावन का महीना 17 जुलाई से 15 अगस्त तक रहेगा। सावन का महीना जल तत्व का महीना है। सावन का महीना भगवान शिव का महीना माना जाता है। पंचाग के अनुसार इस बार सावन का महीना 17 जुलाई से 15 अगस्त तक रहेगा। सावन का महीना जल तत्व का महीना है।

ऐसे में भक्त अपने भगवान को खुश करने के तरह तरह के उपाय करते हैं। इसमें आप कुछ खास मंत्र का जाप भी कर सकते हैं। ऐसे ही आज सोमवार है तो हम आपको एक विशेष मंत्र बताने जा रहे हैं जिससे आपका पास भी धन वर्षा होगी। दरिद्रता और अभाव को दूर रखने के लिए विशेष मंत्र और पद्धति से की गई शिव पूजा बहुत ही प्रभावी मानी गई है। पुराणों में लिखा है कि भोलेनाथ शिव का यह मंत्र गरीबी दूर करने के लिए सबसे सटीक है।

धन प्राप्ति के लिए सावन में क्या करें?

  • नियमित रूप से शिवलिंग पर जल की धारा अर्पित करें।
  • प्रातः और सायं शिव जी के दरिद्रतानाश मन्त्र का जाप करें।
  • मंत्र होगा – “ॐ दारिद्रय दुःख दहनाय नमः शिवाय”
  • रोज यथाशक्ति कुछ न कुछ धन का दान अवश्य करें।

कर्ज मुक्ति के लिए सावन में क्या करें ?

  • रोज प्रातः शिव मंदिर जाएं।
  • सबसे पहले शिवलिंग पर शहद अर्पित करें।
  • उसके बाद शिवलिंग पर जल की धारा अर्पित करें।
  • ऐसा करते समय एक विशेष मंत्र का जाप करें।
  • मंत्र होगा – “ॐ ऋणमुक्तेश्वराय नमः शिवाय”
  • मंत्र जप के बाद कर्ज मुक्ति की प्रार्थना करें।
  • ये उपाय सावन के हर मंगलवार करें।

शीघ्र विवाह के लिए सावन में क्या करें ?

  • प्रातः स्नान करके शिवजी को जल अर्पित करें।
  • अपनी उम्र के बराबर बेलपत्र शिव जी को अर्पित करें।
  • “नमः शिवाय” का जप करें।
  • एक दो मुखी या छः मुखी रुद्राक्ष धारण करें।
  • पूरे सावन में सात्विक आहार ग्रहण करें।
  • यह उपाय सावन के हर सोमवार को करें।

भाग्य को मजबूत करने के लिए सावन में क्या करें ?

  • शिवलिंग पर जल, बेलपत्र और सुगंध अर्पित करें।
  • यथाशक्ति “नमः शिवाय” का जाप करें।
  • रोज शिव पुराण का पाठ या अध्ययन जरूर करें।
  • शिवलिंग पर स्पर्श कराकर रुद्राक्ष या रुद्राक्ष की माला धारण करें।
  • शिवजी के प्रति अपनी सम्पूर्ण निष्ठा बनाये रखें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here