हमारे भारत की अधिकतम जनसंख्या एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए रेल यात्रा का उपयोग करती है। रेल की यात्रा सामान्यतः बस अथवा अन्य सड़क मार्ग के वाहनों से कई मायनों में कहीं ज्यादा सुविधा जनक होती है, परन्तु स्थिति यहां तब बिगड़ जाती है, जब यात्रियों की अधिक संख्या होने की वजह से रेल यात्रा के लिए टिकिट लेने के लिए लम्बी लम्बी कतारों घंटों इंतजार करना होता है, जिससे की रेल यात्रिओं को बहुत ही ज्यादा असुविधा का सामना करना पड़ता है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अब केंद्र सरकार के रेल मंत्रालय ने टिकिट नियमों में एक बड़ा परिवर्तन किया है, जिससे रेल यात्रियों को अब टिकिट के लिए इन लम्बी लाइनों से काफी हद तक मुक्ति मिलने वाली है।

Also Read-‘छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी, नए दौर में लिखेंगे मिलकर नई कहानी हम हिंदुस्तानी’, Rishi Sunak से मिले PM Modi

किया गया ये बड़ा बदलाव

टिकिट खिड़की पर लगने वाली रेल यात्रियों की लम्बी लम्बी कतारों से मुक्ति दिलाने के लिए अब भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने टिकट बुकिंग के नियमों में एक बड़ा बदलाव किया है। दरअसल UTS ऐप के जरिए अनरिजर्व टिकट बुक करने के लिए यात्रा शुरू होने वाले स्टेशन से टिकिट बुकिंग के लिए तय की गई दूरी को भारतीय रेलवे के द्वारा बढ़ा दिया है। दरअसल भारतीय रेलवे के द्वारा अब तक UTS ऐप के जरिये रेल यात्रा प्रारम्भ किए जाने वाले स्टेशन से 2 किलो मीटर तक की दुरी के अंतर्गत टिकिट बुक किया जा सकता था, जिसमें की अब भारतीय रेलवे के द्वारा परिवर्तन करके इस दुरी को दो किमी से बढ़ाकर 20 किमी कर दिया गया है।

Also Read-‘जनजातीय गौरव दिवस’ के अवसर पर बोले भागवत ‘कुछ लोग हमारी मासूमियत का उठाते हैं फायदा, हमें रहना है सावधान’

यात्रियों के समय की होगी बचत

भारतीय रेलवे के द्वारा टिकिट नियमों में किए गए इस महत्वपूर्ण परिवर्तन के बाद अब रेल से यात्रा करने वाले सभी यात्रियों को विशेष सुविधा होने वाली है। इससे एक तरफ जहाँ रेल यात्रिओं के समय की बचत होगी वहीं अब टिकिट बुकिंग की दुरी बढ़ने से आने-जाने में होने वाली असुविधाओं से भी काफी हद तक छुटकारा मिलने वाला है और काफी सारे यात्री इस परिवर्तन की वजह से अपने-अपने घरों से ही भारतीय रेलवे के टिकिट बुक करने में सक्षम होंगे ।