पीएम मोदी को लेकर को दिया ये बयान- राहुल गांधी ने, बीजेपी सांसद रामकृपाल ने किया पलटवार

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नेशनल हेराल्ड बिल्डिंग स्थुित यंग इंडिया लिमिटेड के ऑफिस को सील करने और दिल्ली के कांग्रेस दफ्तर के बाहर सुरक्षा कड़ी करने पर बयान दिया हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नेशनल हेराल्ड बिल्डिंग स्थुित यंग इंडिया लिमिटेड के ऑफिस को सील करने और दिल्ली के कांग्रेस दफ्तर के बाहर सुरक्षा कड़ी करने पर बयान दिया हैं। उन्होंने कहा कि, डराने की कोशिश की जा रही है, लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं। राहुल गांधी ने कहा, ”सच्चाई को बैरिकेड नहीं किया जा सकता।”

राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर गंभीर आरोप लगाते हुए एक बार फिर कहा कि मोदी-शाह लोकतंत्र के खिलाफ काम कर रहे हैं। राहुल ने कहा कि, वह लोकतंत्र की रक्षा के लिए लड़ते रहेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह देश की रक्षा और समाज में सौहार्द कायम रखने का काम करते रहेंगे। इसी के साथ उन्होंने यह कहते हुए चुनौती दी कि सरकार को जो करना है, कर ले।

Also Read : कॉमनवेल्थ गेम्स : तूलिका ने बढ़ाया देश का मान, जूडो में जीता सिल्वर मेडल, दो वर्ष की थीं जब हुई थी पिता की हत्या

 

View this post on Instagram

 

A post shared by ABP News (@abpnewstv)


राहुल गांधी के बयान पर बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने पलटवार किया है। रामकृपाल यादव ने कहा, ”राहुल गांधी को कोई नहीं डरा रहा है , यह उनकी संस्कृति है, हमारी नहीं, कानून कोर्ट के आदेश पर अपना काम कर रहा है. राहुल गांधी बेल पर हैं, नहीं तो जेल में रहते।”

बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी से पूछताछ कर चुका है। ईडी ने नेशनल हेराल्ड दफ्तर के कई ठिकानों पर छापेमारी को बिल्डिंग के एक हिस्से को सील कर दिया है। जांच एजेंसी ने कहा है कि बिना उसकी अनुमति के सील के हिस्से को नहीं खोला जाएगा। ईडी की इस कार्रवाई के मद्देनजर कांग्रेस के संभावित प्रदर्शन के देखते हुए पार्टी मुख्यालय के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई, इसी पर राहुल गांधी का बयान आया है।

ईडी की कार्रवाई पर कांग्रेस की ओर से कहा गया कि अब याचना नहीं रण होगा। इस पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने पलटवार करते हुए कहा कि न रण होगा न रन होगा। उन्होंने कहा पहले कांग्रेस कहती थी कि सत्याग्रह होगा और अब रण की बात कर रही है, आखिर चाहती क्या है।