Pushya Nakshatra 2022 : 26 घंटे तक विद्यमान रहेगा पुष्य नक्षत्र पर खरीदी का महामुहूर्त

Pushya Nakshatra 2022 : माघ मास में सालों बाद फरवरी में 14 और 15 फरवरी को सोम और मंगल पुष्य के रूप में खरीदारी का महामुहूर्त बन रहा है।

gold rate today

Pushya Nakshatra 2022 : माघ मास में सालों बाद फरवरी में 14 और 15 फरवरी को सोम और मंगल पुष्य के रूप में खरीदारी का महामुहूर्त बन रहा है। ऐसे में खास बात ये है कि पुष्य नक्षत्र के साथ सर्वार्थसिद्धि और रवियोग का संयोग बनाने की वजह से ये 26 घंटे तक मुहूर्त रहेगा। जिसके चलते 26 घंटे खरीदारी के लिए महामुहूर्त बन रहा है।

लगातार 2 दिन तक आप हर प्रकार की वस्तुएं खरीद सकेंगे। ये बेहद खास होने वला है। ज्योतिषों के अनुसार, रवि योग व पुष्य नक्षत्र की साक्षी में सोने चांदी की खरीदी बेहद समृद्धि देने वाली मानी गई है। साथ ही महामुहूर्त में गृह प्रवेश, गृह आरंभ, नवीन प्रतिष्ठान का शुभारंभ, उघोगों की स्थापना करना विशेष शुभ है।

Must Read : ये सेलेब्स मना रहे शादी के बाद पहला Valentine’s Day

ज्योतिष द्वारा माघ मास के शुक्ल पक्ष की प्रदोष तिथि पर सोमवार के दिन प्रदोष रहेगी। जिसके चलते आज के दिन प्रदोष होने से ये सोम प्रदोष कहला रहा है। ऐसे में सुबह 11 बजकर 45 मिनट से पुष्य नक्षत्र की शुरुआत हो जाएगी। जोकी 26 घंटों तक रहेगा। दरअसल ,26 घंटे का महामुहूर्त सोम और मंगल पुष्य कहलाता है। आपको बता दे, 27 नक्षत्रों का पुष्य को राजा कहा जाता है। ऐसे में जब रवियोग व सर्वार्थसिद्धि योग का होना इसकी शुभता को सौ गुना बढ़ा देता है।

दरअसल, ये दिव्य योग की साक्षी में हर प्रकार की खरीदी शुभ मानी गई है। ऐसे में घर परिवार में स्थाई समृद्धि के साथ सुख सौभाग्य प्राप्त होता है। साथ ही ने कार्यों का शुभारम्भ, मूर्ति प्रतिष्ठा, गृह आरंभ, गृह प्रवेश, इच्छित सफलता के लिए की जाने वाली काम्य पूजा मनोवांछित फल प्रदान करती है। इसके अलावा अभी किसी भी कार्य की शुरुआत के लिए लंबे समय से श्रेष्ठ मुहूर्त का इंतजार कर रहे थे उन सभी लोगों के लिए सोम और मंगल पुष्य के रूप में अतिशुभ समय आया है।