इंदौर। देश का 17 वां प्रवासी भारतीय सम्मेलन 2023 इंदौर शहर में 8 जनवरी से 10 जनवरी तक ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित होने वाला है। इस सम्मेलन में लगभग 65 देशों के प्रवासी भारतीय सम्मिलित होंगे। प्रवासी भारतीय सम्मेलन में तीन प्रदर्शनी होगी। पहली डिजिटल होगी, दूसरी प्रदर्शनी समिट को लेकर होगी, तीसरी प्रदर्शनी मध्यप्रदेश की प्रगति को लेकर होगी। डेलीगेट्स के लिए एयरपोर्ट पर आने जाने के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। साथ ही उनके लिए हेल्प डेस्क की भी व्यवस्था की गई है।

इंदौर की सभी बड़ी होटलों में ज्यादा से ज्यादा कमरे सम्मेलन में आने वाले मेहमानों के लिए सुरक्षित रखें जा रहे हैं, ताकि उन्हें किसी तरह की परेशानियाँ न हो। आने वाले प्रवासी भारतीयों, केबिनेट मंत्री व अन्य मंत्री व उच्च अधिकारियों की सूची बनायी जा रही है। रूम आरक्षण के संबंध में किसी को समस्या न हो इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा। इस हेतु इंदौर होटल एसोसिएशन के साथ बैठक भी आयोजित की गयी है। डेलीगेट्स के एयरपोर्ट आने पर उनके लगेज की समुचित व्यवस्था रहेगी व पार्किंग व्यवस्था सुचारू रूप से की जायेगी।

इस हेतु विस्तृत रूप से योजना बनाई जा रही है। यातायात व्यवस्था बेहतर ढंग से की जाने हेतु माईक्रो प्लानिंग की जा रही है। डेलीगेट्स के क्यू आर स्केनर बारकोड स्कैनर की व्यवस्था की जायेगी। शहर में डेलीगेट्स के भ्रमण के दौरान प्रमुख बाजारों में लाईटिंग की मनोहारी व्यवस्था की जायेगी। शहर के प्रमुख स्थलों पर होर्डिग्स लगेंगे। मॉर्निंग व इविनिंग वाक हेतु योजना बनाई जा रही है।

कार्यक्रम स्थल के सभी मार्गों का निरीक्षण अधिकारी स्वयं जाकर कर रहे हैं। शहर में साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था रहेगी। प्लास्टिक का उपयोग नहीं होगा। जीरो वेस्ट प्लान बनाया जा रहा है| एमपीईबी होटलों व अस्पतालों का आडिट करेगा, ताकि विद्युत संबधी कोई परेशानी न हो। अस्पतालों में आकस्मिक चिकित्सा की बेहतर व्यवस्था की जायेगी। एम्बूलेंस का मूवमेंट कार्यक्रम स्थल होटल एवं अस्पताल व अन्य जगह से सुचारू रूप से हो सके इस हेतु अस्पतालों के मालिक व होटल मैनेजरों के साथ बैठक का आयोजन किया जायेगा। एम्बेलेंस मूवमेंट प्लान व फायर-मॉकड्रील करवाने के साथ ही सेफ्टी प्लान बनाया जा रहा है।

व्हीव्हीआईपी के लिए यातायात व्यवस्था हेतु रूट नियत किये जाकर उनकी योजना बनाई जा रही है। कन्ट्रोल रूम 24 घंटे क्रियाशील रहेगा। एमपीईबी, रेसीडेंसी, वन विभाग के गेस्ट रूम रिजर्व किये गये हैं। प्रवासी भारतीय सम्मेलन के प्रचार प्रसार एवं मध्यप्रदेश की बेहतर छवि बनाने के लिए इंदौर एयरपोर्ट एवं रेल्वे स्टेशन पर होर्डिंग्स लगाये जायेंगे।

Also Read : श्रद्धा मर्डर केस में Mumbai Police ने की ये दो अहम गलतियां, नही तो आरोपी आफताब होता सलाखों के पीछे

आयोजन से संबंधित अलग-अलग तरह की कमेटियाँ बनाई गई हैं। कमेटियों में अपर कलेक्टर स्तर के अधिकारी प्रमुख रहेंगे। देश-विदेश के मेहमान व निवेशकों के लिए यातायात, मेडिकल, जनसम्पर्क, सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रोटोकाल होटलों में बार रूम की व्यवस्था का सुचारू रूप से पालन किया जायेगा। देश और शहर में ब्राडिंग सुरक्षा व्यापक रूप से की जायेगी। घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय मीडिया प्रतिनिधियों के लिए मीडिया केन्द्र की व्यवस्था की जायेगी। साफ सफाई के साथ ही कोविड नियमों का पालन किया जायेगा।