Breaking News

अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस पर सेलेब्रीटीज़ का संदेश: परिवार की सेहत पर ज़्यादा ध्यान दें

Posted on: 15 May 2018 11:23 by Ravindra Singh Rana
अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस पर सेलेब्रीटीज़ का संदेश: परिवार की सेहत पर ज़्यादा ध्यान दें

इंदौर: -मई 15 को हम अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस मनाते हैं। इसका मकसद जन-जन को परिवार के बेहतर स्वास्थ्य और पोषण का महत्व समझाना है। तमाम व्यस्तताओं के बावज़ूद यह ध्यान रखना भी जरूरी है कि आपका परिवार, आपके अपने हमेशा स्वस्थ और तंदुरुस्त रहें। हमारे सेलेब्रेटीज़ की व्यस्तता का हाल तो हम सभी समझ सकते हैं पर दिलचस्प यह जानना है कि वे फिर भी समय निकाल कर परिवार की सेहत पर ज़्यादा ध्यान देते हैं।

मशहूर न्युट्रिशनिस्ट और पाइलेट्स एक्सपर्ट माधुरी रुइया की सोच भी यही है। वे कहती हैं, ‘‘मेरे बच्चों को भी मेरी तरह न्युट्रिशन और फिटनेस में दिलचस्पी हो गई है। हमारे लिए सुबह का समय आम तौर पर सेहत भरे आहार बनाने का होता है। मुझे खुद बकायदा खाना बनाने का शौक है और मेरी बेटी भी इसमें हाथ बंटाती है। वह बादाम में इमली का जायका डाल कर बतौर स्नैक्स लेती है जिससे उसे पूरे दिन एनर्जी मिलती है। शोध से बादाम के कई गुण सामने आए हैं जैसे ब्लड सुगर लेवेल सही रखना, टाइप 2 डायबीटीज़ के मरीजों का सुगर कंट्रोल करना और कार्बोहाइड्रेट प्रधान आहार से जुड़े ब्लड सुगर के प्रभाव (जिससे भूखे पेट इंसुलिन लेवेल प्रभावित होते हैं) को कम करना।

बादाम में प्रोटीन और फाइबर भी पर्याप्त मात्रा में है। साथ मिल कर खाना पकाना न केवल एक बेहतर अनुभव है बल्कि इससे हमारे बीच भावनात्मक लगाव भी बढ़ता है।’’ सेलेब्रेटीज़ की तरह हमारे के लिए भी परिवार का विशेष महत्व है। परिवार के सदस्यों की सेहत का खयाल रखना हमारा दायित्व है भले ही एक पल को यह समय की बरबादी लगे। लेकिन दिनचर्या में छोटे-छोटे बदलाव के बड़े फायदे हैं जो आप आने वाले समय में खुद देखेंगे। इसलिए खान-पान में आदतन सेहत का ध्यान रखना, नियमित व्यायाम करना और अपनों को भी शारीरिक रूप से सक्रिय रहने का अवसर देना आप सभी के लिए जरूरी है। इससे आप और आपका परिवार हमेशा स्वस्थ और तंदुरुस्त रहेगा।

मशहूर सिने अदाकार सोनाली बेंद्रे-बहल की दिनचर्या भी बहुत व्यस्त है। काम-काज के साथ परिवार की जिम्मेदारियां हैं। 12 साल के बेटे का पूरा ध्यान रखना है। सोनाली सवेरे सबसे पहले अपने कुक को खाना पकाने के बारे में निर्देश देती हैं क्योंकि उनका मानना है कि परिवार को पोषणयुक्त, सेहत के लिए सही आहार सबसे जरूरी है। सोनाली खुद बताती हैं, ‘‘मेरे लिए इस पर रोक लगाना हर दिन का संघर्ष है कि पति और सास जो जी में आए, जी भर के नहीं खा लें।

साथ ही, यह ध्यान रखना होता है कि वे समय से आहार लें और स्नैक्स में भी सेहत का ध्यान रखें। पर एक मां होने के नाते मेरी सबसे बड़ी जिम्मेदारी बेटे की सेहत का ध्यान रखना है ताकि अपनी उम्र के अधिकांश बच्चों की तरह वह सेहत के लिए हानिकारक चीज़ें ज़्यादा न खा ले। इस संघर्ष का मुझे सबसे अच्छा फल जो मिला है वह बादाम है जो हर दिन मैं इस्तेमाल करती हूं। अपने बेटे और पति के लंच बाॅक्स में याद से मुट्ठी भर बादाम रखती हूं। आप घर पर हों, काम पर या फिर सफर में मुट्ठी भर बादाम से आसान और इससे अधिक पोषक स्नैक हो नहीं सकता है! सबसे बड़ी बात कि बादाम का सेवन आप कहीं भी, कभी कर सकते हैं और यह पूरे साल उपलब्ध है।’’

पूरी दुनिया में मशहूर इंडियन एक्सेंट के सेलेब्रेटी शेफ मनीष मल्होत्रा अपनी सफलता का श्रेय पारिवार की मज़बूत परंपरा और ओल्ड वल्र्ड हाॅस्पीटलीटी (जो उनका परिवार भी है) को देते हैं जिसके साथ वे सन् 2000 से काम कर रहे हैं। ‘‘मेरा लालन-पालन ऐसे परिवार में हुआ जिसमें लहसून-प्याज खाना भी मना था लेकिन कुक का पेशा चुनने पर मुझे हर चीज़ पकाना था। इसमें मेरे पूरे परिवार, खास कर बड़े भाई ने हमेशा मेरा साथ दिया।

मेरा परिवार ही मेरी सफलता का आधार है। इसलिए हमारी पूरी कोशिश रहती है कि कम से कम एक समय का खाना हम साथ बैठ कर खाएं। मेरी बेटी जो केवल नौ वर्ष की है हम सब को आपस में जोड़ कर रखती है। हमारे दिनचर्या में खान-पान की कुछ खास आदतें शामिल हैं जैसे स्नैक्स में बादाम लेना क्योंकि आम तौर पर जो स्नैक्स हम लेते हैं वे सेहत के लिए सही नहीं हैं। बादाम को आप आसानी से और फटाफट मजेदार फ्लेवर दे सकते हैं। सबसे मजे की बात यह है कि आपकी रसोई में मौजू़द किसी मसाले से बादाम में एक नया जायका आ जाएगा। मुझे खुद फ्लेवर्ड बादाम बना कर परिवार के सामने बतौर स्नैक पेश करना अच्छा लगता है।’’

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com