Homeधर्मMargashirsha Maas 2021: मार्गशीर्ष माह में करें इन मंत्रों का जाप, कर्ज...

Margashirsha Maas 2021: मार्गशीर्ष माह में करें इन मंत्रों का जाप, कर्ज से मिलेगी मुक्ति

Margashirsha month 2021: हिंदू पंचांग के अनुसार, हर महीने कई त्यौहार आते है। वहीं, चंद्रमास में नए माह का आरंभ पूर्णिमा तिथि से हो जाता है। बता दें प्रत्येक चंद्रमास का नाम उसके नक्षत्र के आधार पर रखा जाता है।

Margashirsha month 2021: हिंदू पंचांग के अनुसार, हर महीने कई त्यौहार आते है। वहीं, चंद्रमास में नए माह का आरंभ पूर्णिमा तिथि से हो जाता है। बता दें प्रत्येक चंद्रमास का नाम उसके नक्षत्र के आधार पर रखा जाता है। मार्गशीर्ष माह में मृगशिरा नक्षत्र होता है इसलिए इसे मार्गशीर्ष कहा जाता है। इसके अलावा यह अगहन मास के नाम से भी जाना जाता है।

Kartik Maas 2021

बता दें इस माह में भगवान कृष्ण की उपासना करने का बहुत ही विशेष महत्व माना जाता है। वहीं श्रीमद भागवत पुराण और स्कंद पुराण में भी मार्गशीर्ष मास के महत्व को बताया गया है। चलिए जानते हैं मार्गशीर्ष मास में कर्ज मुक्ति के लिए क्या उपाय करने चाहिए और किन मंत्रों का जाप करना चाहिए।

ये भी पढ़े – Love Horoscope : जानिए आपके प्रेम और वैवाहिक जीवन के लिए कैसा रहेगा दिन

Kartik Maas 2021

वहीं मार्गशीर्ष मास में श्रद्धा और भक्ति से प्राप्त पुण्य के बल पर हमारे सभी तरह के कष्ट दूर हो जाते है। वहीं आपको बता दें यदि इस मास में कोई श्रद्धालु कम से कम तीन दिन तक ब्रह्म मुहूर्त में किसी पवित्र नदी में स्नान करता है तो उसे सभी तरह के सुख प्राप्त होते हैं और साथ ही मार्गशीर्ष मास में साधारण शंख को श्रीकृष्ण के पाञ्चजन्य शंख के समान समझकर उसकी पूजा करने से सभी मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है।

मार्गशीर्ष मास (सांकेतिक तस्वीर)

ये है कर्ज मुक्ति के उपाय
मार्गशीर्ष मास में रोजाना ॐ दामोदराय नमः मंत्र का जाप करें और इस मंत्र का जाप करने से व्यक्ति को सभी प्रकार के कष्टों और समस्याओं से मुक्ति मिल जाती है।
मार्गशीर्ष कृष्ण मास की हर रात को एकांत में दीया आदि जलाकर अपने भगवान विष्णु का पूजन करें।

Chaturmas 2021: आखिर क्‍यों 4 महीने तक विश्राम करते हैं Lord Vishnu? जानिए Reason | Chaturmas 2021 started know the reason behind Lord Vishnu 4 month long rest | Hindi News, धर्म

इन मंत्रों के जाप से होगा लाभ
बता दें भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए इस मंत्र का 108 बार जाप करें। आइए जानते हैं इन मंत्रो के बारे में…
मंगलम भगवान विष्णु, मंगलम गरुड़ ध्वज। मंगलम पुण्डरीकाक्ष, मंगलाय तनो हरि।।
ॐ वैश्वानराय नमः
ॐ अग्नये नम:
ॐ हविर्भुजै नम:
ॐ द्रविणोदाय नम:
ॐ संवर्ताय नम:
ॐ ज्वलनाय नम:
मार्गशीर्ष मास में भगवान विष्णु का ध्यान और उनके मंत्रों का जाप अश्वमेध यज्ञ का फल प्रदान करता है।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular