इन बीमारियों से दूर रखता है अंजीर, जानें इसके फायदे और गुण

आप जानते ही होंगे कुछ फल ऐसे होते हैं, जो फल के रूप में तो स्वादिष्ट लगते ही हैं, लेकिन सूखने के बाद सेहत के लिए और गुणकारी साबित होते हैं। ऐसे ही एक फल के बारे में हम आज आपको बताने जा रहे है जो है तो सूखा लेकिन उसको खाने के कई सारे लाभ भी हैं। हम बात कर रहे हैं अंजीर की।

0
anjir

आप जानते ही होंगे कुछ फल ऐसे होते हैं, जो फल के रूप में तो स्वादिष्ट लगते ही हैं, लेकिन सूखने के बाद सेहत के लिए और गुणकारी साबित होते हैं। ऐसे ही एक फल के बारे में हम आज आपको बताने जा रहे है जो है तो सूखा लेकिन उसको खाने के कई सारे लाभ भी हैं। हम बात कर रहे हैं अंजीर की।

इसे फल और ड्राईफ्रूट दोनों प्रकार से खाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि पृथ्वी पर पाए जाने वाले सबसे पुराने फलों में से एक अंजीर है। अंजीर एक ऐसा डॉयफ्रुट है जिसका उपयोग अन्य डॉयफ्रुट की तरह खाने में और मिठाई में तो लगभग नहीं के बराबर होता है, लेकिन औषधि के रूप में इसका यूज़ सफलतापूर्वक किया जाता है इसलिए अंजीर के कई फायदे होते है।

अंजीर में विटामिन ,आयरन, कैल्शियम और फास्फोरस होता है और यह तमाम तत्व सेहत और शक्ति को बढ़ने के लिए किया जाता हैं। सुस्ती और कमजोरी इसे खाने के बाद ही दूर हो जाती हैं। आपको बता दे, रोज 1 अंजीर रात को आधा कप पानी में भिगोकर, सुबह चबाचबाकर खाने और इसके पानी को पीने से कुछ ही दिन में कब्‍ज से राहत मिल जाती है। गले में खराश है और खांसी भी है तो अंजीर को अच्छी तरह चबा-चबाकर खाने से यह तकलीफ दूर हो जाती है। उसके बाद स्थायी रूप से रहने वाली कब्ज में अंजीर खाने से कब्ज दूर हो जाता है। अंजीर के 2 से 4 फल खाने से पेट साफ़ होता हैं।

सांस की बीमारी के लिए –
अंजीर सांस की बीमारियों के लिए भी बहुत फायदेमंद है इससे फेफड़ों की शिकायत भी खत्म हो सकती है । नजला और जुकाम अगर पुराना हो चुका है और दवाओं के इस्तेमाल से भी परेशानी दूर नहीं हो रही है तो अंजीर खा कर देखें आप को साफ फर्क महसूस होगा। साथ ही ये यह जोड़ों के दर्द घटिया जैसे मर्ज के लिए भी एक ताकतवर ओषौधि है। इससे ब्लड प्रेशर भी नॉर्मल रहता है । शरीर में खून बनने लगता है इस तरह खून की कमी की शिकायत भी दूर हो जाती है और आप दवाइयों से भी बच जाते हैं।

ताकत को बढ़ाने वाला-
सूखे अंजीर के टुकड़े और छिले हुए बादाम को गर्म पानी में उबालें। इसे सुखाकर इसमें दानेदार शक्कर, पिसी इलायची, केसर, चिरौंजी, पिस्ता और बादाम बराबर मात्रा में मिलाकर 7 दिन तक गाय के घी में पड़ा रहने दें। रोजाना सुबह 20 ग्राम तक सेवन करें। इससे आपकी ताकत बढती है।

बवासीर-
3-4 सूखे अंजीर को शाम के समय पानी में डालकर रख दें। सुबह अंजीरों को मसलकर प्रतिदिन सुबह खाली पेट खाने से बवासीर दूर होती है।

हाइपरटेंशन की समस्या-
कम पोटैशियम और अधिक सोडियम लेवल के कारण हाइपरटेंशन की समस्या पैदा हो जाती है। अंजीर में पोटैशियम ज्यादा होता है और सोडियम कम होता है इसलिए यह हाइपरटेंशन की समस्या होने से बचाता है।

सिर का दर्द-
सिरके या पानी में अंजीर के पेड़ की छाल की भस्म बनाकर सिर पर लेप करने से सिर का दर्द ठीक हो जाता है।