इजरायली फिल्ममेकर नादव लैपिड ने बदले अपने सुर अब मांग रहे हैं माफ़ी, हाल ही में भारत के IFFI 2022 में बतौर जूरी हेड नजर आए इजरायली फिल्ममेकर नादव लैपिड अब विवादों से घिर चुके हैं. फिल्ममेकर नादव ने द कश्मीर फाइल्स जैसी फिल्म को एक प्रोपेगेंडा बताया था साथ ही उन्होंने फिल्म को अश्लीलता की परिभाषा दे डाली। इसके बाद से ऐसे में उनके बयान की एक्टर अनुपम खेर ने भी बड़ी निंदा की.

इजरायली फिल्ममेकर नादव लैपिड अब मांग रहे अपने बयान पर माफ़ी

अपने दिए गए बयान के खिलाफ भड़के लोगों को देख नादव लैपिड ने अपना सुर ही बदल लिया हैं. ऐसे में मीडिया सूत्रों से रिपोर्ट्स सामने आई हैं कि इजरायली फिल्ममेकर ने अब कहा है कि उनका मकसद लोगों का या फिर उनके रिश्तेदारों का अपमान करना नहीं था. मेरा उद्देश्य कभी भी पीड़ित लोगों या उनके रिलेटिव्स का अपमान करना नहीं था.और इसके लिए मैं पूरी तरह से माफी मांगना चाहता हूँ.

Also Read- Surbhi Chandna के स्टाइलिश अदाओं पर फिदा हुए फैंस, दिखाया बोल्डनेस का खुमार

जूरी सदस्यों ने भी दी अपनी राय

वहीं IFFI 2022 जूरी के सदस्यों में शामिल रहें सुदीप्तो सेन का बयान भी सामने आया हैं. उन्होंने इजरायली फिल्ममेकर नादव लैपिड के बयान को उनकी निजी राय बताया है. सुदीप्तो का कहना हैं कि 53वें IFFI के समापन समारोह के मंच से फिल्म कश्मीर फाइल्स के बारे में जो भी नादव लैपिड ने कहा वह पूरी तरह से उनकी खुद की वैचारिक राय थी.

Also Read- Malaika Arora की इस हरकत पर अर्जुन कपूर को आया गुस्सा, निकाली जमकर भड़ास

विवेक अग्निहोत्री से मिली फटकार

हाल ही में इजरायली फिल्ममेकर नादव लैपिड का बयान सामने आने के बाद द कश्मीर फाइल्स के डायरेक्टर विवेक अगिनहोत्री का बयान सामने आय हैं. उनका ऐसा मानना हैं कि अगर फिल्म में दिखाया गया कोई भी सीन और डायलॉग झूठा या गलत साबित होता है तो वो फिल्में बनाना छोड़ देंगे।