क्या ’इंदिरा’ की छबि है ’प्रियंका’…

जिस तरह से प्रियंका गांधी उर्फ प्रियंका वाड्रा ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पचास महिलाओं को उम्मीदवार बनाकर नारी शक्ति को पहचाना है उससे यह महसूस होता है कि प्रियंका क्या इंदिरा गांधी की छबि बनने का प्रयास कर रही है।

sonia priyanka

जिस तरह से प्रियंका गांधी उर्फ प्रियंका वाड्रा ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पचास महिलाओं को उम्मीदवार बनाकर नारी शक्ति को पहचाना है उससे यह महसूस होता है कि प्रियंका क्या इंदिरा गांधी की छबि बनने का प्रयास कर रही है।
आईए जानते है प्रियंका के बारे में –

प्रियंका गांधी वाड्रा पूर्व प्रधानमंंत्री राजीव गांधी और कांग्रेस की पूर्व अध्‍यक्ष सोनिया गांधी की बेटी हैं। जो लगभग हर चुनावों में कांग्रेस की स्‍टार प्रचारक के रूप में दिखाई देती हैं। कई बार प्रियंका के नाम का सुझाव कांग्रेस के अध्‍यक्ष पद के लिये भी दिया गया, लेकिन वे खुद कभी पार्टी की बागडोर हाथ में लेने के लिये आगे नहीं आयीं।

लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव के ठीक पहले प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश का कार्यभार सौंपा गया। यूपी-ईस्‍ट का कांग्रेस महासचिव नियुक्‍त किया गया। इससे पहले वे प्रचारक व कैम्‍पेन मैनेजर के रूप में पार्टी को अपनी सेवाएं प्रदान करती रही हैं। शादी के बाद प्रियंका गांधी ने बौद्ध धर्म अपना लिया। वे बौद्ध दर्शन एवं विपासना का पालन करती हैं।