Homeइंदौर न्यूज़Indore News : इंदौर में बनेगा इतिहास, आज से 51 शक्तिपीठों के...

Indore News : इंदौर में बनेगा इतिहास, आज से 51 शक्तिपीठों के एक साथ होंगे दर्शन

पूरे भारत में 51 शक्तिपीठ है और सम्पूर्ण दर्शन करने का एक ही जगह एक साथ सौभाग्य इंदौरवासियों को मिल रहा है।

इंदौर (Indore News): पूरे भारत में 51 शक्तिपीठ (51 shaktipeeth) है और सम्पूर्ण दर्शन करने का एक ही जगह एक साथ सौभाग्य इंदौरवासियों को मिल रहा है। कहीं आप चूक न जाएं। मां पद्मावती के परम उपासक, सर्व धर्म दिवाकर, राष्ट्रसंत पूज्य गुरुदेव डॉ. वसंतविजयजी म.सा. के पावन सान्निध्य में भैरवाष्टमी पर आजादी के अमृत महोत्सव के तहत नौ दिवसीय सामाजिक, धार्मिक जन कल्याण महोत्सव का नौ दिवसीय भव्य आयोजन 19 से 27 नवम्बर तक रेसकोर्स रोड स्थित बास्केटबॉल स्टेडियम में आयोजित हो रहा है।

स्टेडियम में 51 शक्तिपीठों की एक ही गुफा में निर्मित प्रतिकृति का लोकार्पण 20 नवम्बर, शनिवार को होगा। जो देश और मध्यप्रदेश के इतिहास का सबसे बड़ा कार्यक्रम आयोजित होगा। अपनी तरह के अद्भुत, अनूठे धार्मिक कार्यक्रम की विशेषता यह भी है कि देश के 20 राज्यों और विदेश से भी श्रद्धालु भक्तगण पधारना शुरू हो गए है। इस कार्यक्रम का हिस्सा बनकर पुण्यलाभ कमाने का स्वर्णिम मौका इंदौरवासियों को मिला है।

ये भी पढ़े – आज से मार्गशीर्ष मास हुआ शुरू, ये है इस माह के मुख्य व्रत-त्योहारों की लिस्ट

51 शक्ति पीठ के दर्शन के साथ ही स्थल पर जहां अखंड कीर्तन चलेगा जो एक ही जगह पर 51 शक्तिपीठ की महिमा शक्ति को दर्शाकर अपने आप को अनूठा बनाता है। श्री कृष्णगिरी पार्श्व पदमावती शक्तिपीठ सेवा मंडल इंदौर के अभय बागरेचा ने बताया कि इससे पहले शनिवार को दिन में  जैन श्वेतांबर श्री 24 तीर्थंकर कल्याणक सेवा संगठन द्वारा समस्त इंदौर के महिला मंडल एवं संघ के लिए महाचौबीसी, धार्मिक तम्बोला एवं मेहंदी का वितरण किया जाएगा।

विशिष्ट जप, साधना, आराधना शुरू –

नौ दिनों के इस महाधार्मिक महाआयोजन में हजारों लोगों के लिए नित्य प्रतिदिन विशिष्ट जप, साधना, आराधना शुक्रवार से शुरू हो गयी। रात्रि में अति विशिष्ट भैरव सिद्ध साधना हवन, महिला मंडल द्वारा विशेष भक्ति के आयोजन शुरू हो गए।

31 फ़ीट भैरव प्रतिमा अनावरण, सुप्रसिद्ध ड्रमर शिवमणि की प्रस्तुतियां –

शुक्रवार शाम बास्केटबॉल स्टेडियम में 31 फ़ीट नाकोड़ा भैरव की प्रतिमा का अनावरण पूज्य गुरुदेव डॉ वसन्तविजयजी म.सा. के सान्निध्य में किया गया। इस अवसर पर सुप्रसिद्ध ड्रमर पद्मश्री शिवमणि द्वारा दी गयी अनेक प्रस्तुतियों को बड़ी संख्या में उपस्थित लोगों से सराहा।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular