Homeइंदौर न्यूज़Indore News: काउंसलिंग के बाद एक हुए दंपति, पारिवारिक विवाद खत्म

Indore News: काउंसलिंग के बाद एक हुए दंपति, पारिवारिक विवाद खत्म

इंदौर- दिनांक 14 नवंबर 2021- शादी के 4 महीने बाद पति-पत्नी के बीच विवाद काफी बढ़ गए। नाराज होकर पत्नी ने घर में फांसी लगाने की कोशिश की। मकान मालिक ने देख लिया तो उसे फंदे से उतारकर अस्पताल पहुंचाया। इसका पता चलने पर पति भी सुसाइड नोट लिखकर आत्महत्या करने के लिए निकल गया। समय रहते पुलिस ने उसे ढूंढ कर बचा लिया। पति-पत्नी की काउंसलिंग कर पुलिस ने उनके बीच पारिवारिक विवाद को खत्म करवाया।

ALSO READ: इंडेक्स मेडिकल अस्पताल का केंद्रीय मंत्री ने किया दौरा, मरीजों से की बातचीत

बाणगंगा इलाके में रहने वाली अंजलि (परिवर्तित नाम) ने 12 नवंबर की शाम घर में फांसी लगाने की कोशिश की। घटना के समय वह घर पर अकेली थी। मकान मालिक ने जब यह देखा तो उसने शोर मचाया। घर का दरवाजा तोड़कर अन्य लोगों की मदद से महिलाओं को फांसी के फंदे से उतारकर जिला अस्पताल ले गए। वहां से उसे एमवाय अस्पताल रेफर किया। घटना की जानकारी मिलने पर महिला का पति राजेश (परिवर्तित नाम) और परिजन एमवाय अस्पताल आया। वे लोग उसे निजी अस्पताल ले गए। अंजलि ने अपने बयान में बताया कि दहेज को लेकर पति और ससुराल वाले परेशान करते हैं। पति आए दिन मारपीट करता है।

इससे दुखी होकर आत्महत्या करना चाहती थी। महिला के बयान के बाद पुलिस ने राजेश और उसके परिजन के खिलाफ केस दर्ज किया। 13 नवंबर को राजेश अचानक लापता हो गया। उसने घर पर एक पेज का सुसाइड नोट छोड़ा था। इसमें उसने पत्नी और उसके परिवार के लोगों से परेशान होकर आत्महत्या की करने की बात लिखी। यह पत्र मिलने पर राजेश के पिता बाणगंगा थाने पहुंचे।

थाना प्रभारी बाणगगा राजेंद्र सोनी को उन्होंने घटना की जानकारी देते हुए बेटे को बचाने की गुहार लगाई। राजेश की तलाश के लिए टीम बनाई गई। उसका मोबाइल बंद था, मोबाइल की लास्ट लोकेशन घर के आसपास आई। पुलिस इलाके में राजेश की तलाश कर रही थी इसी बीच 1 मिनट के लिए उसने अपना मोबाइल फोन ऑन किया। पुलिस के पास उसकी वर्तमान लोकेशन आ गई। इस लोकेशन के आधार पर पुलिस ने इलाके में सर्चिंग शुरू की तब राजेश मिल गया। उसे तुरंत पुलिस अपने साथ थाने ले गई। थाने में उसके परिवार को बुलाया। परिजन के सामने उसकी पुलिस ने काफी काउंसलिंग की व समझाइश दी। इसके बाद उसने कहा कि वह कोई गलत कदम नहीं उठाएगा।

राजेश और अंजली की शादी 4 महीने पहले हुई थी। रविवार को निजी अस्पताल में बाणगंगा पुलिस पहुंची। अस्पताल में ही पुलिस ने पति-पत्नी के बीच काउंसलिंग की और उन्हें समझाइश दी। इसका असर रहा कि दोनों ने अपने विवाद को खत्म कर एक नई जिंदगी शुरू करने की बात कही। उनके विवाद को खत्म करने ले लिए बाणगंगा पुलिस के गंभीर प्रयास के लिए दंपत्ति ने धन्यवाद दिया।

इस कार्रवाई में थाना प्रभारी बाणगंगा राजेंद्र सोनी, उपनिरीक्षक संजय भदोरिया, उपनिरीक्षक श्रद्धा सिंह पंवार व टीम की सराहनीय भूमिका रही।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular