इंदौर(Indore) : मध्य प्रदेश शुरू से ही प्राक्रतिक संपदाओ, सांस्कृतिक विरासत और प्रगतिशील प्रदेश के रूप में जाना जाता है। विकसित प्रदेशों की फेहरिस्त में मध्य प्रदेश का अपना मुकाम है। अपने बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर और डेवलपमेंट के लिए जाने वाले इस शहर ने अपनी सांस्कृतिक और प्राकृतिक विरासत को अपने में समाहित किया है। भविष्य की और बढ़ते प्रदेश की ऐसी ही कलाकृति हमें ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित प्रवासी भारतीय सम्मेलन में देखने को मिलेगी।

Read More : 1959 में इतने रुपए हुआ करती थी 10 ग्राम सोने की कीमत, 64 साल पुराना बिल हुआ वायरल

आयोजन को बेहतर रूप देने के मकसद से यहां इनामोर्फीक आर्ट तैयार किया जा रहा है, प्रदेश की धरोहर के चित्रों के समावेश से बने इस आर्ट की खूबी यह है, कि 45 डिग्री के एंगल आप इसे जब लेफ्ट साइड से देखेंगे तो मध्य प्रदेश का गौरव चिता दिखाई देगा, वहीं राइट साइड से देखेंगे तो इन्वेस्ट एमपी दिखाई देगा। अर्थात स्टूडियो मुंबई द्वारा निर्मित इस आर्ट का टाइटल द फ्यूचर रेडी स्टेट है। जो की सम्मेलन में आने वाले मेहमानों को प्रदेश के गौरव और इन्वेस्ट एमपी की और आकर्षित करेगा।

प्रदेश के कल्चर, डेवलपमेंट और संस्कृति के चित्रों का समावेश

सेंटर के गेट पर लगे इस आर्ट में प्रदेश के बढ़ते डेवलपमेंट, इंडस्ट्री, लाइफ स्टाइल, क्लचर नृत्य, संगीत कला, एग्रीकल्चर, परिवेश, संपदा, पशु पक्षी, रियासत कालीन चित्र और धार्मिक चित्रों को खूबसूरती के साथ लगाया गया है।

Read More : लोहड़ी का त्यौहार मनाने के पीछे है बेहद खास वजह, आग में तिल मूंगफली डालना होता है शुभ

एक्रलिक शीट पर 3D फार्म में तैयार किया जा रहा आर्ट

प्रदेश की धरोहर की कई सारी फोटो को एकत्रित कर उन्हें एक्रलिक शीट पर छोटे छोटे भागों में उतारा गया है, फिर इन सभी को अलग अलग लेयर पर नायलॉन के धागों की मदद से टंगा गया है। स्टूडियो के अशोक नामदेव बताते है कि इस आर्ट की लंबाई 8 फीट है वहीं इसकी चौड़ाई 12 फीट होगी। वहीं इस आर्ट को तैयार करने में लगभग 4 दिन और लगेंगे। यह आर्ट प्रदेश सरकार को काफी पसंद आया है, और यह मेहमानों को भी अकर्षित करेगा। इससे पहले भी हमने ऐसे आर्ट तैयार किए है, हाल ही में हमने मेलबर्न में टूरिज्म के लिए भी एक आर्ट वर्क तैयार किया था।