इंदौर। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग इंदौर द्वारा राज्य शासन के आयुष विभाग के शासकीय चिकित्सालयों के लिए आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी, होम्योपैथी एवं यूनानी चिकित्सा अधिकारियों की भर्ती हेतु आज एक सत्र में दोपहर 12 से 3 बजे तक लिखित परीक्षा का आयोजन प्रदेश के चार संभागीय मुख्यालयों इंदौर, भोपाल, ग्वालियर एवं जबलपुर में किया गया।

विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी डॉ. आर. पंचभाई ने बताया है कि प्रदेश के 14 परीक्षा केन्द्रों पर आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी के 692 पदों के लिए 4999 अभ्यर्थियों में से लगभग 4300 अभ्यर्थी लिखित परीक्षा में सम्मिलित हुए लगभग 750 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहें। इसी प्रकार होम्योपैथी चिकित्सा अधिकारी की भर्ती के लिए प्रदेश के 16 परीक्षा केन्द्रों पर 5469 परीक्षार्थियों में से 4316 अभ्यर्थी 43 पदों के लिए प्रतियोगी परीक्षा में सम्मिलित हुए। जिसमें 1153 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहें।

यूनानी चिकित्सा अधिकारी के लिए इंदौर तथा भोपाल के 01-01 परीक्षा केन्द्र पर लिखित परीक्षा का आयोजन किया गया। कुल 603 अभ्यर्थियों में 510 अभ्यर्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए। जिसमें 93 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहें। आयोग द्वारा यूनानी चिकित्सा अधिकारी के 28 पद विज्ञापित किए गए। राज्य शासन की मॉनिटरिंग में प्रदेश भर में परीक्षा का आयोजन अनुशासन एवं शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हुआ। आयोग के अध्यक्ष डॉ. राजेशलाल मेहरा के मार्गदर्शन में सुचारू रूप से परीक्षा सम्पन्न हुई। आयोग के सदस्य डॉ. देवेन्द्र सिंह मरकाम द्वारा भोपाल एवं सदस्य डॉ. कृष्णकांत शर्मा द्वारा ग्वालियर के परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण किया गया।

Also Read: ब्रिज को तोड़कर नया बनाने का फैसला बंद कमरे में न होकर जनता के बीच लिया जाए – अतुल शेठ

आयोग के प्रभारी परीक्षा नियंत्रक डॉ. सुशांत पुणेकर ने बताया कि परीक्षा के प्रश्नों के लिए प्रावधिक उत्तर कुंजी आयोग की वेबसाइट पर यथाशीघ्र प्रकाशित की जाएगी। अभ्यर्थी प्रावधिक उत्तर कुंजी के प्रकाशन के पश्चात इस पर अपनी आपत्तियों 7 दिवस में ऑनलाइन पद्धति से ही दर्ज कर सकेगें। प्राप्त आपत्तियों एवं अभ्यावेदनों पर विषय विशेषज्ञों की समिति द्वारा विचार उपरांत मूल्यांकन हेतु अंतिम उत्तर कुंजी जारी की जाएगी।