अन्य

हिमाचल प्रदेश में लापरवाही, मुंबई से आए मजदूरों को सीधे भेजा घर, 15 मिले कोरोना पॉजिटिव

शिमला: कोरोना सकत के बीच सभी प्रवासी मजदूरों का अपने-अपने घरों की ओर जाने का सिलसिला जारी है। ऐसे में जो भी मजदूर आ रहे है उनकी जांच की जा रही है, फिर उन्हें उनके घर भेजा जा रहा है। इन सबके बीच हिमाचल प्रदेश से बड़ी लापरवाही सामने आई है। प्रशासन की लापरवाही के चलते अब यहां कोरोना का खतरा लोगों पर मंडराने लगा है।

दरअसल, प्रशासन ने मुंबई से लौटे लोगों की दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने से पहले ही घर भेज दिया। बुधवार को हमीरपुर में उस समय हडकंप मच गया जब वहां 15 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली। हमीरपुर के जिला मजिस्ट्रेट हरिकेश मीणा ने माना कि पहली रिपोर्ट सामने आने के बाद से ही लोगों को घर भेज दिया गया था।

15 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें घर से उठा लिया गया है। डीएम ने कहा कि किस तरह से चूक हुई, इस पूरे मामले की जांच की जाएगी और संपर्क में आए लोगों को भी क्वारनटीन किया जाएगा। गौरतलब है कि महाराष्ट्र कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है। ऐसे में वहां से लौट रहे लोगों से संक्रमण का फैलाव का ख़तरा ज्यादा है।

अकेले मुंबई में कोरोना संक्रमण के मामले 34,018 पार कर गए हैं। अब तक मुंबई में 1097 लोगों की जान भीजा चुकी है। वहीं हिमाचल प्रदेश में भी कोरोना के मामले बढ़ रहे है। प्रवासी मजदूरों के वापस लौटने के बाद अब राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 273 हो गई है।