breaking newsscroll trendingदिल्लीदेश

‘जिम खोल दीजिए रोजगार बचा लीजिए’ जिम एसोसिएशन ने लगाई मदद की गुहार

 

नई दिल्ली: कोरोना से बचाव के लिए देश में कई तरह की पाबंदियां लगाई गई है। होटल, रेस्तरां, जिम सभी तरह के उद्योगों पाबन्दी लगाई थी। हालांकि, अब धीरे-धीरे सब खोला जा रहा है लेकिन जिम अभी भी बंद है। ऐसे में जिम संचालकों और इससे जुड़े लोगों की आर्थिक हालत खस्ता हो गई है। दिल्ली के जिम एसोसिएशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार लगाई है।

कोरोना संकट काल में जिम के बंद होने से दिल्ली के जिम संचालक और जिम से जुड़ा स्टाफ बेरोजगारी की जबरदस्त मार झेल रहा है। दिल्ली जिम एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट चिराग सेठी ने वीडियो के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भावुक अपील करते हुए जिम को दोबारा खोलने और जिम संचालकों की आपदा में हुई आर्थिक मुसीबत का जिक्र भी किया है।

चिराग सेठी ने बताया कि पिछले पांच महीने से जिम बंद हैं, 15 मार्च को आखिरी बार जिम दिल्ली में खुले थे और आगे भी इसके खुलने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं। किराया नहीं दे पाने की वजह से बहुत से जिम बंद भी हो गए और कई ट्रेनर बेरोजगार हो गए।दिल्ली में करीब 5,500 जिम हैं, इनमें डांस स्टूडियो, फिटनेस स्टूडियो, योग स्टूडियो भी शामिल हैं। ये सब बंद होने की कगार पर हैं।

चिराग सेठी ने कहा कि जिम बंद होने से बड़े स्तर पर बेरोजगारी होगी, इससे जुड़े लाखों लोगों के परिवार का खर्च बंद हो जाएगा। ‘सर, आपसे अनुरोध है कि हमारे जिम खोल दीजिए और हमारी रोटी रोजी बचा लीजिए। इस आपदा में हमारी मदद कीजिए।’

चिराग सेठी ने दावा किया कि जिम संचालकों और जिम एसोसिएशन द्वारा कोरोना के मद्देनजर SOP बना ली गई है और संबंधित मंत्रालय को एक कॉपी भी भेजी गई है। ‘हम सारे एहतियात बरतेंगे, टाइम स्लॉट बनाए गए हैं ताकि एक समय मे ज्यादा लोग जिम के अंदर एंट्री न ले सकें। सभी का टेम्परेचर भी चेक किया जाएगा, और 6 फीट की दूरी रखी जाएगी। सरकार की हर गाइडलाइन का पालन किया जाएगा।’