देश में मौसम के परिर्वतन के असर लगातार देखने को मिल रहें है। कही पर तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है तो कही पर भारी बारिश के असर देखने को मिल रहे है। इससे अगल-अलग राज्यों में भिन्न-भिन्न प्रकार का मौसम देखा जा रहा है। वही एक बार फिर मौसम विभाग के मुताबिक आने वाली 9 नवंबर से 11 नवंबर के बीच भारत के कुछ इलाकों में एक बार फिर से गरज-चमक के साथ भीषण बारिश होने की संभावना बनी हुई है। जिसकी वजह से लोगों को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

यहां पर लगातार हो रही है बारिश

दक्षिण इलाकों में लगातार बारिश का कहर जारी है। इसी बीच एक बार फिर आज मंगलवार को मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए कहा कि, आने वाली 9 नवंबर को दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी श्रीलंका तट पर निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसकी वजह से अगले 48 घंटों के दौरान इसके उत्तर-पश्चिम की ओर तमिलनाडु-पुडुचेरी तटों की ओर निम्न दाब बढ़ सकता है। इस निम्न दबाव के क्षेत्र के कारण तमिलनाडु-पुडुचेरी-कराईकल में 11 नवंबर को भारी बारिश देखने को मिल सकती है। वहीं, 10 और 11 नवंबर को तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों पर बहुत तेज हवाएं (हवा की गति 45-55 किमी प्रति घंटे से 65 किमी प्रति घंटे तक) चलने की भी संभावना है।

भारी बारिश

स्काईमेट के मुताबिक, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। वहीं, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक तटीय कर्नाटक और रायलसीमा में भी हल्की बारिश संभव है। इसके अलावा पहाड़ी राज्यों में कहीं-कहीं बारिश तो कहीं बर्फबारी देखने को मिलेगी।

Also Read : FIFA World Cup 2022 : रतलाम के सिद्धार्थ ने विश्व संगीत मंच पर छोड़ी अमिट छाप, कार्यक्रम के शुभारंभ के दौर में इस बैंड के साथ प्रस्तुति

दिल्ली में ये रहने वाला है मौसम का हाल

राष्ट्रीय राजधानी में कोहरे का कहर जारी है इसी के साथ एक बार फिर आने वाली 10 नवंबर को बारिश होने की संभावना बन रही है। इसी के साथ कोहरे की वजह से वायु प्रदूषण में भी कमी देखने को मिल रही है। वही दिल्ली के सहित भारत के पांच राज्यों में भीषण बारिश की आशंका भी जताई जारी है। अगर इसके अलावा उत्तर भारत की बात करे तो यहां पर भी धुंध ने दस्तक दे दी है। सुबह के समय करते कोहरे के कारण वायु गुणवत्ता में प्रदूषण का स्तर घटा हुआ है। जबकि, सोमवार को उत्तर प्रदेश में एकयूआई 156 दर्ज किया गया है वहीं अगले 1 सप्ताह तक प्रदेश में मौसम शुष्क बना रहेगा।

यूपी का तापमान

उत्तर प्रदेश के मौसम में बदलाव हो रहा है। प्रदेशों में तापमान 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। सबसे अधिक तापमान अलीगढ़ और शाहजहांपुर में 32 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जबकि प्रदेश में सबसे कम तापमान लखीमपुर खीरी में 14% और सोनभद्र चुर्क में 15% रिकॉर्ड किया गया।

बिहार में रहेगा मौसम शुष्क

बिहार में फिलहाल मौसम शुष्क बना हुआ, आने वाले दिनों में जल्दी बिहार में मौसम में बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे। अगले सप्ताह तक तापमान में गिरावट का पूर्वानुमान जारी करते हुए मौसम वैज्ञानिकों ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में बर्फबारी तेज हो रही है। 13 नवंबर के बाद राज्य में इसका असर देखने को मिलेगा।

बर्फबारी 9 से 11 नवंबर के बीच

बर्फबारी के कारण ठंडी हवा से प्रदेश में पारा नीचे जाने के आसार जताए गए हैं। प्रदेश में सबसे अधिक तापमान 32 से 32 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जबकि कम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। जम्मू कश्मीर पिछले कुछ दिनों से कई जगह पर बारिश हो रही है। इसके ऊपरी इलाके में बर्फबारी का दौर जारी है। जिसका असर बिहार पर पड़ेगा 9 से 11 नवंबर के बीच तापमान में भारी गिरावट की चेतावनी जारी की गई है।

Also Read : Indore : कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल में 1000 से ज़्यादा स्थानीय डॉक्टरों के लिए 11 सीएमई का हुआ आयोजन

यहां पर कभी बारिश तो कभी ठंड

झारखंड में मौसम बदलने का सिलसिला जारी रहेगा। मौसम विभाग के मुताबिक अगले कुछ दिनों में झारखंड में धुंध की और तेज दस्तक देखने को मिलेगी। इसके अलावा कोहरे से मौसम पड़ा रहेगा। रांची मौसम केंद्र के मुताबिक नवंबर के अंतिम सप्ताह तक प्रदेश में ठंड की दस्तक देखने को मिलेगी। वहीं कई जिलों में न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया जा रहा है।

जम्मू-कश्मीर हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड के ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी की गतिविधियां तेज हुई है। वहीं जम्मू-कश्मीर सहित उत्तराखंड के कई क्षेत्रों में बारिश का दौर देखने को मिल रहा है। कुछ क्षेत्रों में लगातार हो रही बूंदाबांदी से मौसम सुहावना बना हुआ है। हालांकि तेज बर्फबारी का असर उत्तर और मध्य राज्यों पर देखने को मिल रहा है। तापमान में गिरावट के साथ धुंध की गतिविधियों में भी वृद्धि हुई है।

वहीं मौसम विभाग ने पतझड़ हवा में सर्द हवाओं का रास्ता निकलने का पूर्वानुमान जताया है। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि हिमालय पर्वतमाला के कई क्षेत्रों में बर्फबारी तेज हो गई है। जम्मू कश्मीर के अलावा हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड और लद्दाख में 10 नवंबर को बारिश और बर्फबारी और अधिक तीव्र होगी।