Indore : IDA को एक और योजना की हरी झंडी मिली, 50 करोड़ का होगा फायदा

इंदौर विकास प्राधिकरण(Indore Development Authority) को टाउन प्लानिंग स्कीम 10 पलाखेड़ी, टिगरिया बादशाह, बड़ा बांगड़दा और लिमबोदी गारी में नई कॉलोनी का डेवलपमेंट करने की मंजूरी सरकार ने दे दी है।

इंदौर(Indore News): इंदौर विकास प्राधिकरण(Indore Development Authority) को टाउन प्लानिंग स्कीम 10 पलाखेड़ी, टिगरिया बादशाह, बड़ा बांगड़दा और लिमबोदी गारी में नई कॉलोनी का डेवलपमेंट करने की मंजूरी सरकार ने दे दी है। टीपी एस नो बिचोली हप्सी, टीगरिया राव और कनाडिया में भी आईडीए जल्द कॉलोनी डेवलप करेगा। राज्य सरकार ने आईडीए को टीपीएस 10 की मंजूरी कल दी है। अब लगभग 225 हेक्टर जमीन पर कॉलोनी का काम शुरू हो जाएगा।

किसानों को भी फायदा मिलेगा। इसके साथ ही पूरा इलाका डेवलप हो जाएगा। इस कालोनी के कारण सुपर कॉरिडोर पर जमीनों के भाव भी बढ़ेंगे। इसके अलावा सरकार ने टी पी एस 9 की अनुमति भी दी है। कनाडिया, बिचोली, हप्सी और लिंबोदागारी का इलाका विकसित हो जाएंगा। यहां भी 200 मीटर से ज्यादा जमीन पर आइडिया कॉलोनी डेवलप करेगा। इन दोनों कालोनियों का काम 5 साल तक चलेगा।

Read More : जानिए कैसा रहेगा आज का आपका दिन, पढ़िए राशिफल

इंदौर नगर प्रतिनिधि। इंदौर विकास प्राधिकरण स्कीम नंबर 71 में अक्षत गार्डन के पास वाले प्लाट का लैंडयूज़ बदलवाने की तैयारी कर रहा है। अब उस प्लाट को कमर्शियल उपयोग के लिए बेचा जाएगा। लंबे समय से इंदौर विकास प्राधिकरण इस प्लाट को बेचने के लिए टेंडर बुला रहा है, लेकिन प्लाट नहीं बिक रहा। लगभग 50,000 फिट के प्लॉट पर हमेशा गंदगी रहती है। प्लाट कार्नर का होने के कारण काफी उपयोगी है। वर्तमान उपयोग लोकल शॉप और कम्युनिटी हॉल का है। अब उसका उपयोग आईडीए कमर्शियल करवा रहा है।

Read More : अब 24 घंटे खुला रहेगा इंदौर शहर, सांसद लालवानी की मांग पर CM ने दी अनुमति

विधायक मालिनी गौड़ ने आईडीए अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा से भी बात की थी। चावड़ा ने टाउन प्लैनिंग के अफसरों को बोला है की रोड की चौड़ाई के हिसाब से कमर्शियल प्लाट आसानी से हो सकता है। इस प्लाट की बाजार कीमत 10,000 रुपए फीट से ज्यादा होगी। उस हिसाब से आईडीए को प्लाट बेचने पर 50 करोड़ से ज्यादा का फायदा होगा। आईडीए अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा ने बताया कि हम इस तरह की सभी प्रापर्टी को चिन्हित कर रहे हैं। जिनका उपयोग मास्टर प्लान के हिसाब से यदि बदला जा सकता है, तो हम उन प्लाट को कन्वर्ट करके बेचेंगे।