कसीनो, घुड़दौड़ के साथ ऑनलाइन गेमिंग पर लग सकता है 28% GST

कसीनो, घुड़दौड़ में पैसा कमाने की सोच रहे हैं तो आपको अपना यह शौक महंगे पड़ सकता है। सरकार ने इन पर टैक्स बढ़ाने को लेकर माल एवं सेवा कर या कहे तो जीएसटी की समीक्षा के लिए गठित मंत्रियों की समिति ने अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है और उसे अंतिम रूप देने की तैयारी में है।

दिल्ली: अगर आप ऑनलाइन गेम, कसीनो, घुड़दौड़ खेलने के शौकीन हैं तो यह आपके लिए बेहद  बुरी खबर है, दरअसल आपको बता दें कि अब सरकार इन पर टैक्स वसूलने की तैयारी कर रही है। कसीनो, घुड़दौड़ में पैसा कमाने की सोच रहे हैं तो आपको अपना यह शौक महंगे पड़ सकता है। सरकार ने इन पर टैक्स बढ़ाने को लेकर माल एवं सेवा कर या कहे तो जीएसटी की समीक्षा के लिए गठित मंत्रियों की समिति ने अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है और उसे अंतिम रूप देने की तैयारी में है।

जीओएम ने बुधवार को फिर से बैठक कर इस मामले को अंतिम रूप दिया।  संगमा ने ट्वीट किया जिनमे बताया कि कसीनो, रेसकोर्स और ऑनलाइन गेमिंग पर कर लगाने को लेकर मुख्यमंत्रियों के समूहों में सहमति बन गई है जिसके बाद  रिपोर्ट वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को सौप दी जाएगी। जिसके बाद जल्द ही जीएसटी परिषद की अगली बैठक में  जाएगा।

Must Read- Indore: पुलिस ने देर रात्रि में चलाया ‘ऑपरेशन प्रहार’ अभियान, बदमाशों एवं असाजिक तत्वों के विरुध्द की कार्यवाही

आपको बता दें कि कसीनो, घुड़दौड़ और ऑनलाइन गेमिंग पर अब 18% जीएसटी लगता है। लेकिन समिति द्वारा तैयारी किये गए प्रस्ताव को आगामी बेठक में रखा जाएगा।  जानकारी के अनुसार मेघालय के मुख्यमंत्री कोडराड़ के साथ अन्य मंत्रियों के समूह ने इस महीने की शुरुआत में पिछली बैठक में सर्व सहमति से इन सेवाओं पर कर दर को बढ़ाकर 18 से 28% करने का निर्णय लिया है।