Indore: लाखो की धोखाधड़ी के मामले में फरार 2 आरोपियों को क्राइम ब्रांच की टीम ने किया गिरफ्तार

फरयादी जिसके मल्टीप्लेक्स मॉल के थियेटर में JBL कंपनी का साउंड सिस्टम लगाया जाना था से,Timeout Entertainment Indore कंपनी के दोनो आरोपी संचालकों ने एग्रीमेंट के तहत् पैसे 20,21,182/– रुपए लेकर पैसे न तो उसे पैसे वापस किए

इंदौर: पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर हरिनारायणचारी मिश्र व्दारा इंदौर कमिश्नरेट में विभिन्न प्रकरणों में फरार व इनामी आरोपियों की धरपकड़ करने हेतु प्रभावी कार्यवाही के लिए निर्देशित किया गया हैं। उक्त निर्देशों के अनुक्रम में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त(अपराध) राजेश हिंगणकर द्वारा पुलिस उपायुक्त (क्राईम ब्राँच) निमिष अग्रवाल एवं अतिरिक्त पुलिस उप आयुक्त (क्राईम ब्राँच) इंदौर गुरू प्रसाद पाराशर को उक्त संबंध में निर्देशित किया गया था। जिसके तारतम्य में फरार आरोपियों पर आवश्यक कार्यवाही हेतु थाना क्राइम ब्रांच इंदौर की टीमों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

Must Read- Indore: नवग्रह जिनालय पर हुई आकर्षक विद्युत सज्जा, आचार्य प्रज्ञा सागरजी के सानिध्य में होगा भव्य आयोजन

इसी कड़ी में कार्यवाही के दौरान क्राईम ब्रांच की टीम को मुखबिर के माध्यम से, जबलपुर जिले के थाना विजय नगर के अप.क्रं. 118/22 धारा 420,406,34 भादवि के अपराध में फरार आरोपी के संबंध में जानकारी मिली। उक्त दोनों फरार आरोपियों को मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच ने कार्यवाही कर मुताबिक योजना के घेराबंदी कर आरोपी 1. अंकुर चौधरी पिता कुंवर श्याम चौधरी निवासी 22 कुछ तो रतन विद्यासागर स्कूल के पास खुडेल इंदौर, 2.इंद्रनील विश्वास पिता हरप्रशाद निवासी 189–190 सेक्टर सी वैभव नगर नकानडिया रोड इंदौर को पकडा ।

Must Read- Indore: शहर के सॉलिड वेस्ट मेनेजमेंट व स्वच्छता अभियान को देखने आए, चैन्नई शहर के प्रशासनिक अधिकारी

पूछताछ करते बताया कि फरयादी जिसके मल्टीप्लेक्स मॉल के थियेटर में JBL कंपनी का साउंड सिस्टम लगाया जाना था से,Timeout Entertainment Indore कंपनी के दोनो आरोपी संचालकों ने एग्रीमेंट के तहत् पैसे 20,21,182/– रुपए लेकर पैसे न तो उसे पैसे वापस किए न ही आवेदक को एग्रीमेंट के तहत् सर्विस दी और धोखा–धडी की गई,जिसपर फरियादी के द्वारा दोनो आरोपियों के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कराया गया था। जिस पर दोनो आरोपी 1. अंकुर चौधरी 2.इंद्रनील विश्वास को क्राइम ब्रांच इंदौर टीम द्वारा पकड़कर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही हेतु जबलपुर जिले के थाना विजय नगर की टीम को सुपुर्द किया।