योगगुरु बाबा रामदेव ने महिलाओं को लेकर विवादित बयान दिया है, जिसको लेकर उनको काफी ट्रोल किया जा रहा है। दरअसल, बाबा रामदेव ने महाराष्ट्र के ठाणे जिले में एक योग शिविर में मौजूद लोगों के सामने ये बात कही है जिस समय महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस भी बाबा के ठीक सामने बैठी थीं।

बाबा ने शिविर में बोलते हुए कहा कि महिलाएं साड़ी पहने अच्छी लगती हैं, सलवार सूट पहने भी अच्छी लगती हैं और मेरी तरह कुछ भी ना पहने तो भी अच्छी लगती हैं। जिसके बाद रामदेव का जबरदस्त विरोध शुरू हो गया है। बाबा के इस बयान के बाद महाराष्ट्र में NCP ने सड़क पर बैठकर जमकर विराध किया है। वहीं NCP के अलावा दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी इस पर संज्ञान लिया है और देश से मांफी मांगने को कहा है।

माफ़ी मांगने की हो रही मांग : स्वाति मालीवाल

वहीं महिला आयोग की सदस्य स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर लिखा कि महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री की पत्नी के सामने स्वामी रामदेव द्वारा महिलाओं पर की गई टिप्पणी अमर्यादित और निंदनीय है। इस बयान से सभी महिलाएं आहत हुई हैं, बाबा रामदेव को इस बयान पर देश से माफ़ी मांगनी चाहिए।

Also Read : Gujrat Assembly Election : भाजपा ने जारी किया घोषणा पत्र, 20 लाख नौकरियां और मुफ्त में इलेक्ट्रिक स्कूटी देने का किया वादा

बता दें कि, इस कार्यक्रम में योग गुरु बाबा रामदेव ने अमृता फडणवीस की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि, अमृता फडणवीस को युवा बने रहने का इतना जुनून है कि मुझे लगता है कि वह कभी भी 100 साल की बूढ़ी औरत नहीं होंगी। वे बहुत हिसाब से भोजन खाती हैं और खुश रहती हैं। रामदेव ने कहा कि जब देखों वे बच्चों की तरह हंसती रहती हैं। अमृता फडणवीस के चेहरे पर जिस तरह की मुस्कान है, मैं सभी के चेहरे पर उसी खुशी को देखना चाहता हूं।