ऑटो सेक्टर पर मंदी की मार, 21 साल के निचले स्तर पर वाहनों की बिक्री

0
30

नई दिल्ली। मंदी की मार झेल रहा ऑटो सेक्टर वाहनों की बिक्री में आ रही लगातार गिरावट से उबर नहीं पा रहा है। इसी बीच ऑटो सेक्टर को अगस्त माह में बड़ा झटका लगा है। केंद्र सरकार की तमाम कोशिशों के बाद भी वाहनों की बिक्री बढ़ नहीं पा रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वाहनों की बिक्री में लगातार 10वें महीने गिरावट दर्ज की गई है। नोटबंदी और जीएसटी के बाद वाहनों की बिक्री में लगातार गिरावट देखी जा रही है। वाहन उद्योग में पिछले 21 सालों में सबसे कम बिक्री का सामना करना पड़ा। सियाम के मुताबिक घरेलू बाजार में अगस्त महीने में वाहनों की बिक्री में 23.55 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। ऐसी गिरावट इससे पहले साल 2000 के दिसंबर में देखने को मिली, जब बिक्री में 21.81 फीसदी की गिरावट आई थी।

cars

सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैनुफैक्चर्स (सियाम) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों से पता चलता है कि अगस्त में वाहनों की बिक्री में 23.55 फीसदी की गिरावट आई और कुल 18,21,490 वाहनों की बिक्री हुई, जबकि पिछले साल इसी महीने में कुल 23,82,436 वाहन बिके थे। वाहन निर्माताओं के संगठन सियाम के मुताबिक अगस्त में यात्री वाहनों की बिक्री पिछले साल के अगस्त महीने की तुलना में 31.57 फीसदी घटकर 1,96,524 यूनिट रह गई। अगस्त 2018 में कुल 2,87,198 वाहनों की बिक्री हुई थी। सियाम की ओर से जारी किए आंकड़ों के अनुसार अगस्त 2019 में घरेलू बाजार में कारों की बिक्री 41.09 फीसदी घटकर 1,15,957 यूनिट रह गई, जबकि एक साल पहले अगस्त में 1,96,847 कारें बिकी थीं। इस दौरान दुपहिया वाहनों की बिक्री 22.24 फीसदी घटकर 15,14,196 यूनिट रह गई। वहीं एक साल पहले इसी माह के दौरान देश में 19,47,304 दुपहिया वाहनों की बिक्री की गई, जिसमें बाइक की बिक्री 22.33 फीसदी घटकर 9,37,486 यूनिट रह गई, जबकि एक साल पहले इसी माह में 12,07,005 यूनिट बिकी थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here