अमेजन पर लगा आरोप, वर्कर्स बोले- वॉशरूम की जगह बॉटल करनी पड़ती इस्तेमाल

0
72
amazon

नई दिल्ली : अमेरिका की रेप्यूटेड कंपनी अमेजन भले ही इन दिनों ऑनलाइन खरीददारी में सबसे आगे चल रही हो, लेकिन वहां काम करने वाले कर्मचारियों की हालत काफी खराब बताई जा रही है। अमेजन में काम करने वाले कर्मचारियों को शिफ्ट के दौरान टॉयलेट जाने की भी इजाजत नहीं दी जाती है। यहां तक की उन्हें प्लास्टिक की बॉटल में ही पेशाब करने को मजबूर किया जाता है।

बता दे, अमेजन कर्मचारियों की स्थिति सुधारने के लिए अब पूरे ब्रिटेन में प्रदर्शन शुरू हो गया है। शुक्रवार को मिल्टन कीन्स, रूजले, स्वानसी, पीटरबॉरो, वॉरिंगटन, कोवेंट्री और डोनकास्टर में कंपनी के विशाल गोदामों के बाहर प्रदर्शन किया जा रहा है। वर्कर्स का कहना है कि वेयरहाउसेज में काम के लिए हालात सुरक्षित नहीं हैं और सैलरी भी कम है।

जीएमबी के मुताबिक पिछले 3 साल में अमेजन के वेयरहाउसेज में 600 बार एंबुलेंस बुलानी पड़ी हैं। जीएमबी के जनरल सेकेट्री टिम रोएचे ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा था कि ‘अमेजन के स्टोर्स में कर्मचारियों के साथ हादसे हो रहे हैं। कर्मचारियों की वजह से ही अमेजन कमाई कर रहा है। लेकिन, उनका भी घर परिवार है। वो रोबोट नहीं हैं।’

बताया गया है कि अमेजन के गोदाम में काम करने वाले कर्मचारियों को टॉयलेट जाने की इजाजत नहीं दी जाती और उन्हें बॉटल में ही पेशाब करने को मजबूर किया जाता है। साथ ही गर्भवती महिलाओं को घंटों खड़े रखा जाता है और कुछ गर्भवती महिलाओं को नौकरी से निकाल दिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here