शाबाश इंदौर पुलिस: अवैध फायर आर्म्स के विरुद्ध प्रदेश की बड़ी कार्यवाही

इंदौर शहर में अपराध एवं अपराधियों पर नियंत्रण हेतु श्रीमान पुलिस आयुक्त इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र व्दारा इंदौर कमिश्नरेट में आगामी पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण एवं निर्विघ्न रुप से संपन्न हो इस को ध्यान में रखते हुए, शहर में अवैध फायर आर्म्स के परिवहन व क्रय विक्रय पर अंकुश लगाये जाने हेतु श्रीमान अतिरिक्त पुलिस आयुक्त श्री मनीष कपूरिया को निर्देशित किया गया हैं। जिस पर उनके द्वारा पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय व अपराध शाखा) इंदौर श्री अरविन्द तिवारी एवं अतिरिक्त पुलिस उप आयुक्त क्राईम ब्राँच इंदौर श्री गुरू प्रसाद पाराशर को अवैध फायर आर्म्स की खरीदी बिक्री वह इनकी गतिविधियों में सलिप्त लोगों के संबंध में पतारसी एवं निगरानी हेतु क्राइम ब्रांच की टीमों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए थे।

उक्त संबंध में प्राप्त निर्देशों के तारतम्य में क्राईम ब्राँच द्वारा लगातार कार्य किया गया और अवैध फायर आर्म्स क्रय विक्रय करने वाले अपराधियों को चिन्हित किया गया एवं खरीद फरोख्त के संबंध में आसूचना संकलन किया गया । इसी दौरान दिनांक 18.12.2021 को क्राइम ब्रांच इन्दौर को अपने मुखबिर तंत्र के माध्यम से पता चला कि खरगोन जिले के ग्राम सिंगनूर का रहने वाला आरोपी ( सिकलीगर ) जलसिंह पिता संतोष सिंह छाबड़ा उम्र 55 साल नि . ग्राम सिगनूर थाना गोगावां जिला खरगोन स्वयं हथियार बनाकर इंदौर शहर में सप्लाई करने आता रहता है। सूचना पर कार्यवाही करते हुए अपराध शाखा की टीम द्वाराआरोपी को हथियारों की सप्लाई के लिए आते हुए देवगुराड़िया बायपास पर पुल के किनारे खड़े हुए पकड़ा । जिसके कब्जे से दिनांक 18.11.2021 को प्रारंभ में 10 देशी पिस्टल , 04 नग देशी कट्टे एवं 04 जिन्दा कारतूस बरामद हुये ।

क्राईम ब्राँच इंदौर द्वारा कार्यवाही करते हुये उक्त सिकलीगर के विरुद्ध थाने पर अपराध क्रमांक 28/2021 धारा 25 , 27 आर्न्स का पंजीबद्ध किया गया । दौराने विवेचना उक्त आरोपी से पूछताछ करते आरोपी द्वारा जिला देवास के दो लोगो 1. शंकर पिता सीताराम निगम नि ग्राम हीरापुर उदयनगर जिला देवास एवं 2. संतोष पिता शंकर नि . ग्राम हीरापुर उदयनगर जिला देवास को डिलेवरी देना बताया। आरोपी सिकलीगर द्वारा पूर्व में भी उक्त दोनों आरोपियों को डिलेवरी देना बताया और सिगनूर के जंगलों में अवैध रूप से हथियार बनाना बताया, जो आरोपी सिकलीगर की निशादेही पर हथियार बनाने का सामान और बनाये गये देशीकट्टा व पिस्टल सिंगनूर के जंगलों से जप्त की गई। तत्पश्चात देवास जिले के अन्य दोनों आरोपियों को हिरासत में लिया जाकर पूछताछ की गई और सिकलीगर द्वारा पूर्व में दिये गये देशी कट्टे व पिस्टल बरामद किये गये।
इस प्रकार क्राईम ब्राँच द्वारा अवैध हथियारों का निर्माण करने वाले सिकलीगर के साथ 02 हथियार सप्लायर को गिरफ्तार किया गया हैं तथा उक्त आरोपियों से कुल 55 अवैध हथियार जिनमें 41 देशी पिस्टल (बत्तीस बोर), 14 देशी कट्टे ( 12 बोर ) एवं 11 जिंदा कारतूस बरामद कर, अवैध हथियार बरामद जप्त किये गये ।

क्राईम ब्राँच इंदौर द्वारा पंचायत चुनाव के पूर्व अवैध हथियारों की जप्ती के संबंध में प्रदेश की अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही की गई है । उक्त गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ पर, उन्होनें बताया गया कि सिकलीगर द्वारा जंगली जानवरों के अवैध शिकार हेतु भी अन्य गिरफ्तार आरोपियों के गृह जिले देवास के जंगलों में भी भरमार बंदूक बनाकर दी गई है जिस संबंध में सख्ती से पूछताछ कर उक्त जप्ती के अलावा भी भरमार बंदूक व बनाने के औजारों की बरामदगी के प्रयास किये जा रहे है ।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपियों के आपराधिक रिकार्ड की जानकारी ली जा रही है।आरोपियों के द्वारा इंदौर, देवास आदि में कहाँ कहाँ अवैध हथियार सप्लाई किये गये की जानकारी आरोपियों का पीआर प्राप्त कर ली जावेगी, जिसके आधार आगे अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।