एमपीसीए के अवार्ड सेरेमनी के दौरान सिंधिया और कैलाश का हुआ वीडियो वायरल

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें सिंधिया मंच से उतरकर नीचे कुर्सी पर बैठे कैलाश विजयवर्गीय के पास पहुंचे और उन्हें हाथ पकड़कर मंच पर ले गए।

 विपिन नीमा इंदौर। केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें सिंधिया मंच से उतरकर नीचे कुर्सी पर बैठे कैलाश विजयवर्गीय के पास पहुंचे और उन्हें हाथ पकड़कर मंच पर ले गए। पार्टी के सीनियर नेता और राष्ट्रीय महासचिव होने के नाते सिंधिया ने शिष्टाचार दिखाते हुए कैलाश का सम्मान किया।

 वीडियो में दिखी 3 झलक
● शिष्टाचार
● राजनीति
● मधुर संबंध

1. शिष्टाचार

सिंधिया ने बढ़ाया अपने महासचिव का सम्मान

वायरल हुआ वीडियो इंदौर की एक होटल का है जहां पर शनिवार शाम एमपीसीए का कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस कार्यक्रम में एमपीसीए के पदाधिकारी, राजनेता , क्रिकेटर व अन्य मेहमान मौजूद थे। केंद्रीय ज्योतिरादित्य सिंधिया और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान अनिल कुंबले कार्यक्रम के विशेष अतिथि थे। अनिल कुंबले समारोह के आकर्षक का केंद्र बने हुए थे। सब की नजर कुंबले पर थी , लेकिन सिंधिया ने पूरा दृश्य ही बदल दिया। पार्टी के सीनियर नेता और राष्ट्रीय महासचिव होने के नाते सिंधिया ने शिष्टाचार दिखाते हुए कैलाश का सम्मान किया।

Must Read- आयुक्त प्रतिभा पाल ने निर्देश पर की कार्रवाई, आवासीय अनुमति पर भवन निर्माण करने पर अस्पताल को किया सील

2. राजनीति

मंच से उतरे सिंधिया और हाथ पकड़कर कैलाश जी को मंच पर ले गए

अवार्ड सेरेमनी प्रारंभ होने से पहले मंच पर सिंधिया और उनके पास वाली कुर्सी पर कुंबले बैठे थे। जबकि मंच के नीचे कुर्सियां मेहमानों से भरी हुई थी। आगे वाली रो की पहले नम्बर की कुर्सी पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय बैठे हुए थे। मंच पर बैठे सिंधिया की नजर जैसे ही कैलाश विजयवर्गीय पर पड़ी तो वे तत्काल मंच से अपनी कुर्सी छोड़कर नीचे आए और विजयवर्गीय को हाथ पकड़कर मंच पर ले जाने लगे। पहले विजयवर्गीय ने मंच पर जाने से मना किया, लेकिन सिंधिया उनका हाथ पकड़कर अपने साथ मंच पर ले गए। मंच पर जाते ही अनिल कुंबले ने कैलाश विजयवर्गीय से हाथ मिलाया। कुंबले की कुर्सी के आजु – बाजू वाली कुर्सियों पर सिंधिया और कैलाश बैठ गए। कुर्सी पर बैठते ही विजयवर्गीय ओर सिंधिया के बीच बातचीत हुई , जिसे कुंबले भी सुन रहे थे। इतनी घटना वायरल हुए वीडिया में दर्ज हुई।

3. मधुर संबंध

सिंधिया का इस तरह कैलाश के पास जाना यानी गहरे रिश्ते

मंच से उतरकर इस तरह सिंधिया का कैलाश विजयवर्गीय के पास जाना और आपसी मुलाकात के बाद सियासी गलियारों में चर्चा शुरू हो गई है। इस मुलाकात के कई मायने निकाले जाने लगे हैं। दोनो नेताओ के बीच संबंध इतने मधुर हो गए है कि पिछले दिनों इंदौर आए सिंधिया सीधे नंदानगर स्थित कैलाश विजयवर्गीय के निवास पर पहुंचे थे। कैलाश विजयवर्गीय फूलों का गुलदस्ता लेकर सिंधिया के स्वागत की तैयारी में खड़े थे। तभी उन्हें महाआर्यमन सिंधिया भी नजर आए तो वे बोल उठे कि हमें तो पता नहीं था कि युवराज भी साथ हैं। इस पर सिंधिया ने कहा कि ये तो आपके लिए सरप्राइज है। भविष्य में कोई बड़े उलटफेर की संभावना से जोड़कर इसे देखा जा रहा है।