लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र के बबुरहा गांव में खेत से दो नाबालिग लड़कियों का संदिग्ध हालत में शव मिलने के बाद से ही हड़कंप मच गया। दरअसल, यहां तीन नाबालिक चारा लेने के लिए खेत में गई थी। लड़कियों के चाचा को किसी ने सूचना दी कि तीनों लड़कियां खेत में पड़ी हैं। जिसके बाद तीनों को तत्काल अस्पताल ले जाया गया, जहां दो को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

जिसके बाद तीसरी की हालत अभी भी नाजुक बानी हुई है। उसका इलाज कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में चल रहा है। वहीं लड़कियों के शव से गांव में पूरी तरह तनाव का माहौल छाया हुआ है। एहतियात के तौर पर गांव के अलावा जिला अस्पताल में भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। पीड़िता की मां के मुताबिक, लड़कियों के मुंह से झाग निकल रहा था। पुलिस 6 टीमें बनाकर मामले की तफ्तीश कर रही है।

वहीं इस बीच इलाके के लोग गांव में धरने पर बैठ गए हैं। गांव वालों की मांग है कि, परिवार वालों को थाने में ना बैठाया जाए, परिवार को इंसाफ़ दिया जाए। लोगों का आरोप है कि परिवार को किसी से मिलने नहीं दिया जा रहा है।

आपको बता दे कि, मृत दोनों लड़कियों का 11 बजे पोस्टमार्टम शुरू हो चुका है। पोस्टमार्टम से ही पता चलेगा कि क्या वाक़ई में ज़हरीला पदार्थ खाने या खिलाने से मौत हुई या फिर मौत की कोई और वजह है। वहीं परिवार समेत गांव के तमाम लोगों से पूछताछ जारी है। इलाक़े में कोई सीसीटीवी नहीं है, क्योंकि खेत वाला इलाक़ा है।

साथ ही उन्नाव के एसपी ने बताया कि, इस मामले में जांच चल रही है। अभी एक लड़की की मां के द्वारा यह बताया गया है कि उन लड़कियों के हाथ पांव नहीं बंधे थे, जबकि एक लड़की के चाचा ने कहा कि लड़कियों के हार-पैर बंधे थे, हम सभी पहलुओं की जांच कर रहे हैं। पूरी जांच के बाद सारी बात सामने आ जाएगी।