झारखंड के हजारीबाग जिले से पुलिस ने 5 करोड़ रूपए कीमत की अफीम जब्त की है। इसके साथ करीब 13 लाख रूपए कैश बरामद भी किया था। इस मामले की जानकारी पुलिस को पहले से ही थी। इस मामले को अंजाम देने के लिए पुलिस ने एसआईटी का गठऩ किया। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, कामेशेवर साव नामक शख्स के यहां से भारी मात्रा में नशीला पदर्था जमा होने की जानकारी मिली थी। अपराधी की धर-पकड़ करने के लिए टीम बनाई। उसके बाद आरोपी के घर पर दबीश दी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी ये जानकारी

एसपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले की जानकारी देते हुए बताया कि गठित एसआईटी ने रविवार को साव के घर पर छापा मारा और 19.400 किलो अफीम के साथ 13 लाख रुपए कैश भी बरामद किया। एसपी ने बताया कि साव ने यह अफीम एक प्लास्टिक की बाल्टी में छुपा रही थी, जबकि कैश उसने एक दूसरे कमरे में एक स्टील के डिब्बे में छिपा रखा था। एसपी ने दावा किया कि यह हजारीबाग पुलिस द्वारा पकड़ी गई अफीम और नकदी की अब तक की सबसे बड़ी खेप है।

एक आरोपी महिला गिरफ्तार दो आरोपी फरार

उन्होंने बताया कि पुलिस ने कामेश्वर साव की पत्नी रुदनी देवी को गिरफ्तार कर लिया है जबकि उसका पति कामेश्वर साव पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है। रुदनी साव ने पुलिस को बताया कि उनके घर पर अफीम उनके दामाद ज्ञानी साव ने रखी थी। ज्ञानी साव भी फिलहाल पुलिस की गिरफ्तर से बाहर है। एसपी ने कहा कि चतरा और हजारीबाग जिलों में ज्ञानी और कामेश्वर साव की धरपकड़ के लिए तलाशी और छापेमारी की जा रही है।

60 लाख की भी की जब्त ड्रग्स

झारखंड के हजारीबाग में ड्रग मिलने का यह पहला मामला नहीं है। एक हफ्ते पहले पुलिस ने दो अलग-अलग मामलों में हजारीबाग से 60 लाख रुपए की कीमत का ड्रग्स जब्त किया था जिसमें 2 किलो अफीम और 650 ग्राम ब्राउंस शुगर थी। इस मामले में पुलिस ने कुल 8 तस्करों को गिरफ्तार किया था।