प्रशासन की संवेदनशील पहल, दिव्यांगजनों का बनेगा रॉक-बैंड

अब दिव्यांगजनों की प्रतिभाओं को एक मंच देने की पहल की जा रही है। इंदौर जिले के ऐसे दिव्यांगजन जो गायन और वादन में रुचि रखते हैं, जिन्हें इनकी समझ और इसमें रुचि है। ऐसे दिव्यांगजनों को चिन्हित कर उन्हें गायन- वादन का बेहतर ज्ञान देकर और इस कला का उन्हें माहिर बनाएंगे और उन्हें प्रशिक्षित भी किया जाएगा।

Divyangjan, indore , indore news, indore hindi news, indore hindi news,

इंदौर : प्रशासन द्वारा दिव्यांगजनों को कई सुविधाएं दी जा रही है, हाल ही में कलेक्टर मनीष सिंह के निर्देशन में जिला प्रशासन द्वारा दिव्यांग जनों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए  काम किया जा रहा है। आज हर जगह दिव्यांगजनों को मौका भी दिया जा रहा है। जिससे सभी बेहद खुश हैं। आपको बता दें कि अब दिव्यांगजनों की प्रतिभाओं को एक मंच देने की पहल की जा रही है। इंदौर जिले के ऐसे दिव्यांगजन जो गायन और वादन में रुचि रखते हैं, जिन्हें इनकी समझ और इसमें रुचि है। ऐसे दिव्यांगजनों को चिन्हित कर उन्हें गायन- वादन का बेहतर ज्ञान देकर और इस कला का उन्हें माहिर बनाएंगे और उन्हें प्रशिक्षित भी किया जाएगा।

Must Read- कथावाचक प्रभु महाराज तो बड़ा ठगोरा निकला, इंदौर की महिलाओं से ठग लिए 40 लाख रुपए

दिव्यांगजनों की कला को निखारने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा अपील की गई है कि जो दिव्यांगजन गायन और वादन में रुचि रखते और इसे सीखना चाहते हैं। वो आगे आकर अपनी प्रतिभा को दिखाए सभी के साथ साझा करें। इसके लिए  प्रशासन ने गूगल  फॉर्म की भी दी हैं, इस लिंक में जो जानकारी मांगी गई है उसे भरकर सबमिट करना होगा। नीचे दी हुई लिंक पर टच कर के आप अपनी जानकरी दे सकते, और इस प्रशिक्षण का हिस्सा बन सकते है।

https://docs.google.com/forms/d/e/1FAIpQLSfMB0vJwhg_mBw3CBj4JISEmWeal8AqmmtB9Rz0Tc85z_T5fw/viewform?usp=sf_link

इस आवेदन को भरने की अंतिम तारीख 25 जून 2022 दी गई और जुलाई में आवेदन के जरिये 20 दिव्यांगजनों को चुना जाएगा। जब दिव्यांगजनों का सिलेक्शन हो जाएगा तब उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा।