शादी का झांसा देखकर इंजीनियर युवक ने किया इंदौर की युवती से दुष्कर्म

शादी का झांसा देखर कानपुर के युवक ने युवती से दुष्कर्म किया। दोनों की पहचान मेट्रीमोनियल साइड के जरिए हुई थी। पीड़िता ने जब युवक से दुष्कर्म के मामले को लेकर संपर्क किया तो युवक ने इंदौर आने से मना कर दिया।

इंदौर में एक लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। कानपुर के एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर द्वारा शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किए जाने की वारदात का खुलासा हुआ। युवक से युवती की पहचान मेट्रीमोनियल वेबसाइट के जरिए हुई थी। दोनों 2021 में मैट्रिमोनियल वेबसाइट के जरिए एक दूसरे से मिले। दोनों में  बातें होने लगी, आपस में शादी की बात भी चली। हालांकि इस दौरान युवक के परिवार ने लड़की को नापसंद कहकर शादी से इंकार कर दिया लेकिन युवक ने युवती को शादी का झांसा देकर उस से मिलता रहा और 2022 में युवती के साथ कई बार संबंध भी बनाए।

Must Read- Monalisa Dance on ‘Bhool Bhulaiyaa 2’ Song : मोनालिसा के डांस वीडियो ने मचाया धमाल, कार्तिक आर्यन के हुक स्टेप्स करती दिखी एक्ट्रेस

दोनों की पहचान अक्टूबर 2021 में शादी डॉट कॉम के माध्यम से हुई थी। आरोपी निर्मल ठाकुर कानपुर का रहने वाला है और इंदौर की युवती से लगातार संपर्क में रहा। दोनों के परिवार भी आपस में एक दूसरे को जानते थे, लेकिन लड़के के घरवाले युवती को नापसंद करते थे। इसके बावजूद भी निर्मल युवती से मिलता, युवती ने जब निर्मल से बात करना बंद कर दी जिसके बाद निर्मल ने युवती को फोन करना शुरू कर दिए। युवती ने बताया कि आरोपी निर्मल हमेशा उससे यही बात कहता कि शादी केवल तुझसे ही करुंगा। जिसके बाद युवती युवक के झांसे में आ गई। पीड़िता ने आगे बताया कि मार्च 2022 से लेकर अब तक आरोपी कई बार संबंध बना चुका है। वह कानपुर से कई बार इंदौर आया है और विजय नगर थाना क्षेत्र के समीप स्थित होटल में कई बार संबंध बनाएं। युवती ने कुछ दिनों के बाद जब शादी करने की बात कही, जिसके बाद आरोपी निर्मल ने साफ मना कर दिया।

Must Read- MP Weather Update : तय समय से 3 दिन पहले ही केरल पहुंचा मानसून, MP में भी जल्द देगा दस्तक

आरोपी युवक बेंगलुरु की एक कंपनी में  सॉफ्टवेयर इंजीनियर का काम करता है। लॉकडाउन के बाद से ही वह अपने घर कानपुर में work-from-home कर रहा था। पीड़िता ने जब युवक से दुष्कर्म के मामले को लेकर संपर्क किया तो युवक ने इंदौर आने से मना कर दिया। जिसके बाद आरोपी युवक की शिकायत पीड़िता ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से की जिसके बाद पुलिस ने आरोपी पर 5000 का ईनाम  घोषित कर दिया और शनिवार की रात तक आरोपी युवक पुलिस के कब्जे में आ गया।