सैंया भये कोतवाल तो डर काहे का

वापी। मामला थोड़ा दो तीन दिन पुराना जरूर है लेकिन गुजरात के वापी(Gujarat’s Vapi) जिले स्थित एक गांव में आयोजित एक शादी समारोह में कोरोना गाइड लाइन की जिस तरह से धज्जियां उड़ाई गई(Corona guide line was blown up in the wedding ceremony) उससे सैंया भये कोतवाल तो फिर डर काहे का जैसी कहावत जरूर चरितार्थ हो गई।

दरअसल जिस शादी कार्यक्रम की बात यहां हो रही है वह भाजपा नेता सुनंदा(BJP leader Sunanda) के देवर राहुल गामित का था और इस कार्यक्रम में न केवल गाइड लाइन में निर्धारित मेहमानों की अपेक्षा पूरे गांव को बुलाया गया बल्कि मौजूद लोगों ने डीजे की धुन पर कदम भी थिरकाए। जानकारी के अनुसार सुनंदा डोलवान तहसील पंचायत की उपाध्यक्ष(Sunanda Dolwan Vice President of Tehsil Panchayat) है तथा उनके देवर की शादी में नियमों को ताक में रखने में उन्होंने कोई कोर कसर नहीं रखी।

must read: भगवंत पीते है…भद्दे चुटकुले सुनाते है…ये पंजाब में क्या करेंगे

दो दिन पहले हुए इस कार्यक्रम में जितने भी गांववासी डीजे की धुन पर डांस कर रहे है उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो फिर स्थानीय पुलिस की नींद खुली। हालांकि पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेकर जांच शुरू करते हुए तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। परंतु ग्रामीणों की यदि माने तो सुनंदा भाजपा नेता है और उनकी पहुंच बहुत उपर तक है, इसलिए भले ही पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया हो परंतु इस मामले में होना कुछ नहीं है।

must read: पकिस्तान की उड़ी धज्जियां, पायलट ने प्लेन को छोड़ दिया मझदार में, कारण हैं ये

150 मेहमानों की अनुमति

जिस तरह से कोरोना के मरीजों में बढ़ोतरी हो रही है उससे शासन प्रशासन चिंता में है इसके चलते ही वैवाहिक कार्यक्रमों में महज 150 मेहमानों को ही बुलाने की अनुमति शासन द्वारा दी गई है बावजूद इसके नियमों का पालन नहीं किया गया और पूरे गांव को ही बुलाकर डीजे की धुन पर डांस करवा दिया। तो फिर सैंया भये कोतवाल तो फिर डर काहे का… जैसी कहावत चरितार्थ करने की बात सुनंदा पर लागू होने जैसी बात…!