रूपये में 6 साल की सबसे बड़ी गिरावट, ये फैक्टर है वजह

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने चीन की 300 अरब डॉलर की वस्तुओं पर शुल्क लगाने का ऐलान किया है।

0
50
rupee

नई दिल्ली: भारतीय करेंसी में इस समय काफी गिरावट देखने को मिल रही है। सोमवार को रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 113 पैसे लुढ़क गया। एक कारोबारी दिन में रुपये में ये गिरावट 6 साल की सबसे गिरावट देखी गई। इससे पहले अगस्त 2013 में एक दिन में रुपये में इतनी बड़ी गिरावट देखने को मिली थी। इन तीन दिनों में रुपया 194 पैसे लुढ़क गया है।

रूपये में लगातार आ रही गिरावट के पीछे सबसे बड़ी वजह चीन की करेंसी युआन है। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने चीन की 300 अरब डॉलर की वस्तुओं पर शुल्क लगाने का ऐलान किया है। इसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि अमेरिकी शुल्क का जवाब देने के लिए चीन अपनी करेंसी में अवमूल्यन की अनुमति दे दी है।

इन सबके बीच सोमवार को चीन की करेंसी युआन अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 7 युआन से अधिक नीचे आ गया। यह 2008 के बाद का सबसे निचला स्तर है। इसके बाद भारतीय करेंसी रुपया में भी बड़ी गिरावट दर्ज की गई। मंगलवार को भी युआन में गिरावट देखने को मिली। बाजार के जानकारों की मानें तो यह सिलसिला आगे भी जारी रहने की आशंका है और इस वजह से रुपया भी कमजोर होगा।

रुपये में चल रही सुस्ती का असर शेयर बाजार पर भी देखने को मिल रहा है। बीते कुछ दिनों से शेयर बाजार रिकॉर्ड गिरावात के दौर से गुजर रही है। सोमवार को सेंसेक्‍स 700 अंक तक टूट गया, वहीं निफ्टी में भी 200 अंकों से अधिक की गिरावट दर्ज की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here