मध्य प्रदेश से राजस्थान तक बारिश का अलर्ट, जानें आज का मौसम

देश के कई हिस्से इन दिनों भारी बरसात का सामना कर रहे हैं.

देश के कई हिस्से इन दिनों भारी बरसात का सामना कर रहे हैं. केरल, गुजरात और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में बारिश की वजह से नदी, नाले सब उफान पर हैं. मौसम विभाग (IMD) जम्मू कश्मीर, राजस्थान और यूपी-बिहार में भारी बारिश का अनुमान जताया है। अगले दो-तीन दिनों में यहां मानसून मेहरबान होगा, कहीं कहीं भारी बारिश कहर भी ढा सकती है। इधर, मध्य, पश्चिमी और दक्षिण भारत में भी बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। राजधानी दिल्ली की बात करें तो यहां मौसम मिलाजुला रह सकता है। कुछ इलाकों में हल्की वर्षा होगी तो कहीं मध्यम। बाकी इलाकों में बादल छाए रहेंगे। जम्मू कश्मीर, राजस्थान, यूपी और बिहार के कुछ इलाकों तथा पंजाब और हरियाणा-चंडीगढ़ में भारी वर्षा का अनुमान है।

Also Read- क्यों ट्विटर पर ट्रेंड हुआ ‘Extend Due Date Immediately’, जानिए पूरा मामला

मौसम विभाग का अनुमान है कि मानसून अब उत्तर भारत में सक्रिय होगा। यह इलाका तेज बारिश के लिए तरस रहा है। आईएमडी का अनुमान है कि अब मानसून यहां मेहरबान होगा और अगले एक सप्ताह में यूपी, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल को तरबतर कर सकता है। अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके असर से उत्तर भारत में झमाझम बारिश की संभावना है। उधर, हिमालय के इलाके में नया पश्चिमी विक्षोभ भी बना है। वहीं, पूर्वी राजस्थान और आसपास के इलाकों में चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। इन मौसम सिस्टम के चलते उत्तर भारत में अच्छी वर्षा के आसार हैं। भारतीय मौसम विभाग के निदेशक डॉ. एम मोहापात्रा के अनुसार उत्तर भारत में वर्षा का दौर तेज होगा। अगले एक सप्ताह में इन राज्यों में बारिश की कमी दूर हो सकती है। देश के बाकी हिस्सों में वर्षा का दौर थम सकता है। इससे लगातार वर्षा से बाढ़ व जलभराव से जूझ रहे राज्यों को राहत मिलेगी।

कहा बरसेंगे बादल
27 से 30 जुलाई तक जम्मू-कश्मीर में कई जगहों पर भारी वर्षा होने का अनुमान है। आज से 30 जुलाई तक हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी बारिश हो सकती है।राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार में भी मध्यम से तेज वर्षा के आसार हैं। गुरुवार को दिल्ली में भी तेज बारिश की संभावना है। यूपी, बिहार व झारखंड में कम हुई वर्षा देश में मानसून की अब तक की प्रगति की बात करें तो सामान्य से करीब 11 फीसदी ज्यादा औसत वर्षा दर्ज हुई है। देश के अधिकांश हिस्से तरबतर हो चुके हैं, लेकिन यूपी, बिहार व झारखंड में सामान्य से आधी बारिश भी नहीं हुई है। इन राज्यों में करीब 45 फीसदी कम वर्षा हुई, लेकिन अगले कुछ दिनों में झमाझम बारिश से हालत सुधर सकती है।