हिंदु समुदाय ने कंपनी से बीयर की बोतल पर लगे इस विवादित और निंदापूर्ण लेबल को हटाने की मांग की है. और कहा है कि अगर बीयर की बोतल से देवी की तस्वीर नहीं हटाई गई तो विरोध की आवाज़ और तेज होगी.

ब्रिटेन में लिकर बनाने वाली एक कंपनी की बीयर की बोतलों को लेकर विवाद शुरू हो गया है. बिएन मंगर नाम की इस कंपनी ने अपनी बीयर की बोतलों पर हिंदू देवी की तस्वीर छापी है. अब घटना सामने आने के बाद से कंपनी का जमकर विरोध हो रहा है. हिंदु समुदाय ने कंपनी से अपने उत्पाद को वापस लेने की मांग की है. ब्रिटेन में हिंदुओं और भारतीयों से जुड़े मसलों पर आवाज बुलंद करने वाली सोशल प्लेटफॉर्म इनसाइट यूके ने इस बात की सूचना दी है.

Also Read – प्‍यार कभी मरता नहीं! एक शख्स ने कमरे के अंदर ही बनवा ली इतने लाख की मूर्ति, जिसके सामने मुमताज भी फेल

इनसाइट यूके ने मदिरा बनाने वाली बिएन मंगर नाम की कंपनी के विरुद्ध आक्रोश प्रकट किया है और कहा है कि कंपनी ने हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले प्रोडक्ट को बाज़ार में बेच रही है. इनसाइट यूके ने इस घटना को लेकर बीयर की फोटो के साथ ट्वीट किया है और कड़ा एक्शन लेने की भी मांग की है.

उठी लेबल हटाने की मांग

बीयर की बोतल पर भगवान की फोटो लगाने को लेकर ब्रिटेन का हिंदू समुदाय भी आक्रोश जता रहा है. वहां रह रहे हिंदुओं ने कंपनी से बीयर की बोतल पर लगे इस विवादास्पद और तिरस्कारपूर्ण लेबल को हटाने की मांग की है और कहा है कि अगर तस्वीर को बीयर की बोतल से नहीं हटाया गया तो आक्रोश की आवाज़ और तेज होगी और आगे तक पहुंचेगी. यह पहली घटना नहीं है जब शराब और बीयर के जरिए हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का प्रयास किया गया हों.

इससे पूर्व भी कई बार इससे मिलते-जुलते मामले सामने आ चुके हैं. साल 2021 में फ्रांस की एक मदिरा बनाने वाली कंपनी ग्रेनेड-सुर-गोरोन ने ‘शिवा बीयर’ मार्केट में उतारा था, जिसकी वजह से हिंदू समुदाय ने बेहद आक्रोश प्रकट किया था. यही नहीं, वर्ष 2018 में भी डर्बीशायर नाम की शराब कंपनी ने बीयर की बोतल पर काली माता की फोटो छापी थी, जिसके बाद हिंदू संगठनों ने कंपनी की काफी निंदा भी की थी. और साथ ही कहा था की मंडाला बीयर को लेकर हिंदू समाज ने मांग की है कि कंपनी, अपने इस प्रोडक्ट को वापस ले और बाज़ार में इसकी खरीदी पर प्रतिबंध लगाए.