ओंकारेश्वर: भाद्रपद की पूर्णिमा पर ओंकारेश्वर में नर्मदा स्नान के लिए श्रद्धालुओं की आज भारी भीड़ उमड़ी है। ऐसे में नर्मदा नदी में पानी की कमी से श्रद्धालुओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। बताया जा रहा है कि बांध के गेट बंद रहने और बिजली उत्पादन के लिए टरबाइन भी नहीं चलने से तीर्थनगरी में नर्मदा का पानी घाटों से दूर चला गया है। जिसके चलते श्रद्धालु घाट छोड़ कर चट्टानों पर बैठकर नहाने को विवश हैं।

जानकारी के मुताबिक, पैर फिसलने पर घायल होने तथा गहरे पानी में डूबने की घटनाएं बढ़ने के बाद भी प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं की सुविधा और आस्था को नजर अंदाज किया जा रहा है। ऐसे में आज के दिन दोपहर तक 30 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने नर्मदा स्नान और दर्शन किए हैं। बता दे, पुण्य सलिला मां नर्मदा के तट पर स्थित ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शनार्थ और स्नान के लिए आम दिनों के अलावा विशेष मौकों पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। आज स्नान-दान पूर्णिमा और श्राद्ध पक्ष की शुरूआत होने से हजारों श्रद्धालु यहां आए है। गणेश जी की मूर्तियों का विसर्जन करने के लिए भी आसपास के अंचलों व शहरों से लोग पहुंचने से भीड़ बढ़ गई है।