pravasi bharatiya sammelan: प्रवासी भारतीय सम्मेलन के चलते कई NRI महिलाएं व् परिवार इंदौर होम स्टे कर रहे हैं। वहीं इंदौरी भी इनकी सेवा सत्कार कोई कमी नहीं छोड़ रहे हैं। भारतीय प्रवासी सम्मेलन में मध्य प्रदेश सरकार ने इंदौर के लोगों से विदेशियों को अपने घर रुकवाने का निवेदन किया था जिसके बाद बड़ी संख्या में इंदौर के लोगों ने पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन किया। पोर्टल के माध्यम से विदेशी लोग इंदौर में उन लोगों के यहां रुके जिन्हें उन्होंने पहले कभी देखा तक नहीं था।

डॉक्टर रीना जौहर कैलिफोर्निया में डॉक्टर हैं और 15 साल से वहीं पर रह रही हैं। वे वकील भी हैं। वे अपनी माता गुलशन जौहर के साथ इंदौर में डॉक्टर आशिष अग्रवाल के यहां रुकी हैं। आशिष ने उन्हें मांडू, महेश्वर, राजबाड़ा जैसी कई जगह घुमाई हैं।

NRI की जुबानो पर चढ़ रहा इंदौरी पोहा

रीना और गुलशन ने कहा कि इंदौर में उन्होंने सड़क किनारे की दुकानों, होटलों और ढाबों में खाना खाया। उन्हें पोहा और मक्के की रोटी और सरसों का साग बेहद अच्छा लगा। दोनों ने कहा, हमने कभी नहीं सोचा था कि जिस इंसान को हमने देखा भी नहीं है वह घर हमें इतना प्यार देगा। दोनों ने कहा अकेले इंदौर आते तो कहीं नहीं घूम पाते। आशिष ने सब जगह घुमाई।

Also Read: मॉरीशस से पधारे प्रवासी भारतीयों ने किया संजीवनी बालमित्र केंद्र का भ्रमण, इंदौर पुलिस द्वारा किए कार्यो की जमकर की तारीफ